NDTV Khabar

BOXING: कुछ ऐसे मेरीकॉम ने निकहत जरीन को हराकर पाया ओलिंपिक ट्रॉयल में हिस्सा लेने का हक

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
BOXING: कुछ ऐसे मेरीकॉम ने निकहत जरीन को हराकर पाया ओलिंपिक ट्रॉयल में हिस्सा लेने का हक

मुकाबला जीतने के बाद मेरीकॉम

नई दिल्ली:

छह बार की विश्व विजेता मैरी कॉम (Mary Kom) ने शनिवार को ओलिंपिक क्वालीफायर के ट्रॉयल्स के फाइनल में महिलाओं के 51 किलोग्राम भारवर्ग में निकहत जरीन को 9-1 से हरा दिया है. यहां इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में आयोजित की गई ट्रॉयल्स में मैरी कॉम ने दमदार खेल दिखाते हुए निकहत को पटखनी दी. इस मुकाबले को लेकर शुक्रवार से ही चर्चा जोर-शोर से हो रही थी. कारण यह था कि निकहत जरीन ने हालिया समय में मेरीकॉम के साथ 51 किग्रा भार वर्ग में ट्रॉयल आयोजित करने की मांग की थी. अब इस जीत के बाद मेरीकॉम 51 किग्रा भार वर्ग में अगले साल चीन में ओलिंपिक क्वालीफायर मुकाबले में हिस्सा लेंगी. 

यह भी पढ़ें:  कुछ ऐसे आदत से मजबूर Javed Miandad ने CAA को लेकर भारत के खिलाफ फिर उगला जहर


इस भारवर्ग में दो दिन तक चली ट्रायल्स में चार मुक्केबाजों ने हिस्सा लिया था. निकहत ने शुक्रवार को ज्योति गुलिया को 10-0 और मैरी कॉम ने रितू ग्रेवाल को 10-0 से मात दे एक दूसरे से भिड़ंत तय की थी.

यह भी पढ़ें:  इस वजह से विनोद कांबली ने उठाए मुंबई रणजी टीम की चयन प्रक्रिया पर सवाल

वहीं 57 किलोग्राम भारवर्ग में साक्षी ने सोनिया लाथेर को 9-1 से हराया. 60 किलोग्राम भारवर्ग में अनुभवी मुक्केबाज सरिता को हार झेलनी पड़ी. सिमरन ने सरिता को 8-2 से मात दी. 

टिप्पणियां

VIDEO: पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी, स्पेशल स्टोरी. 

69 किलोग्राम भारवर्ग में लवलिना बोरगेहेन ने ललिता को 10-0 से शिकस्त दी और 75 किलोग्राम भारवर्ग में पूजा ने नुपूर को भी 10-0 से हराया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... धर्मेंद्र ने जब अपनी मम्मी से पूछा था 'तू हमेशा जिंदा रहेगी' तो मां बोली थीं- तेरे नाना नानी जिंदा हैं...

Advertisement