NDTV Khabar

अर्थव्यवस्था पर शायराना अंदाज में बोले जेटली, 'ऐसे हालात में भी आता है दरिया पार करना ...'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अर्थव्यवस्था पर शायराना अंदाज में बोले जेटली, 'ऐसे हालात में भी आता है दरिया पार करना ...'

अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:
टिप्पणियां

संसद में सोमवार को आम बजट 2016 पेश करते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शायराना अंदाज में वैश्विक अर्थव्यवस्था के बुरे दौर से गुजरने और इसके मुकाबले इंडियन इकोनॉमी के बेहतर हालत में होने का दावा किया। उन्होंने कहा कि ऐसे समय जब दुनिया की अर्थव्यवस्था गंभीर अवस्था से गुजर रही है, हमारी अर्थव्यवस्थास्थिर बनी हुई है। वित्‍त मंत्री ने कहा कि आसमानी और सुल्तानी, दोनों बलों ने हमें परेशान किया है। लगातार दो ख़राब मॉनसून के बावजूद हमारी अर्थव्यवस्था बेहतर बनी हुई है। हमारा विदेशी मुद्रा भंडार 350 बिलियन डॉलर है।हमारी विकास दरऊंची है जबकि हमें कमज़ोर विरासत मिली थी। अपनी बात को शायरी के जरिये रखते हुए उन्‍होंने कहा, 'फिर भी दिखाया है हमने, फिर भी दिखा देंगे सबको, कि ऐसे हालात में भी आता है दरिया पार करना ...।

जेटली ने कहा कि करंट अकाउंट डेफिसिट 18.4 बिलियन डॉलर से घटकर 14 बिलियन डॉलर आ गया है। देश की जीडीपी की वृद्धि दर 7.6 फीसदी तक पहुंच गई है। अर्थव्यवस्था बेहतर प्रगति कर रही है। आइएमएफ़ ने भारत की प्रशंसा की है। उन्‍होंने दावा किया आर्थिक सुधारों की रफ़्तार को बनाए रखा जाएगा।




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement