हम आतिशबाजी की उम्मीद कर रहे थे, यह 'फुस्सी बम' निकला : बजट पर राहुल गांधी

हम आतिशबाजी की उम्मीद कर रहे थे, यह 'फुस्सी बम' निकला : बजट पर राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि बजट में किसानों और युवाओं के रोजगार के लिए कुछ नहीं किया गया

नई दिल्ली:

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किए गए बजट को केवल शेरो-शायरी वाला बजट करार देते हुए कहा कि इसमें कोई स्पष्ट दृष्टिकोण और सोच नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार ने इस बजट में किसानों और युवाओं के रोजगार के लिए कुछ नहीं किया है. लोकसभा में बजट पेश किए जाने के बाद राहुल ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, 'हम जोरदार आतिशबाजी की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन यह फुस्सी बम निकला.' उन्होंने कहा कि देश में युवाओं के लिए रोजगार सबसे बड़ी समस्या है. सरकार इसे कैसे हल करेगी? इस मोर्चे पर बजट में कुछ भी नहीं किया गया है.

हालांकि राहुल गांधी ने आयकर सीमा और राजनीतिक चंदे को लेकर बजट में किए गए प्रस्ताव का उन्होंने समर्थन किया. उन्होंने कहा, 'राजनीतिक चंदे को पारदर्शी बनाने के लिए जो भी कदम उठाये जा रहे हैं, हम उनका समर्थन करेंगे.'

उन्होंने रोजगार सृजन के संबंध में कहा, 'बजट में गरीबों, बेरोजगारों और किसानों के लिए कुछ नहीं है. यह शर्मनाक है. किसान संकट का सामना कर रहे हैं और उनके कर्ज में छूट की जरूरत है. इस बारे में बजट में कुछ भी नहीं है. ये बुनियादी मुद्दे हैं.' रेल बजट पर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, 'मोदी ने बुलेट ट्रेन का वादा किया था. अब बुलेट ट्रेन कहां है? रेलवे की बुनियादी समस्या सुरक्षा की है.' (इनपुट भाषा से)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com