Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

'विकास वाला बजट' के लिए अमित शाह ने सरकार को दी बधाई, कहा- किसानों, गरीबों और दलितों के लिए कई योजनाएं

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार की आखिरी पूर्णकालिक बजट के लिए सरकार को धन्यवाद दिया है.

'विकास वाला बजट' के लिए अमित शाह ने सरकार को दी बधाई, कहा- किसानों, गरीबों और दलितों के लिए कई योजनाएं

अमित शाह (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी सरकार की आखिरी पूर्णकालिक बजट के लिए सरकार को धन्यवाद दिया है. साथ ही सरकार के इस बजट को विकास वाला बजट करार दिया है. अमित शाह ने कहा कि यह विकास की कल्पना और विकास वाला बजट है. विकास की कल्पना को किसान और दलितों तक पहुंचाने के लिए इस बजट में ढेर सारी चीजों को समावेश किया गया है. उन्होंने कहा कि किसानों, गरीबों, दलितों और जनजातियों के लिए इस बजट में कई योजनाएं हैं. 

उन्होंने कहा कि 2022 में किसानों की आय दोगुनी कनरे का लक्षय जो पीएम मोदी ने किया है, उसका असर इस बजट में दिख रहा है. मोदी सरकार ने यह घोषणा की है किसानों को उनकी लागत मूल्य से ढेर गुना अधिक समर्थन मूल्य मिलेगा. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद किसी सरकार ने पहली बार यह हिम्मत दिखाई है कि लागत मूल्य से ढेर गुना अधिक समर्थन मूल्य किसानों को दिया जाएगा. बजट में किसानों के लिए काफी कुछ दिया गया है. ग्रामीण बाजार के लिए बजट में कई प्रावधान हैं. फूड प्रोसिंसग के लिए भी उत्तम व्यवस्था की गई है. साथ ही सरकार ने बांस के लिए भी उचित प्रावधान किया है. 

यह भी पढ़ें - Union Budget 2018: बजट में अरुण जेटली ने क्‍या दिया और क्‍या लिया, 20 प्‍वाइंट में जाने सबकुछ

उन्होंने कहा कि कृषि उत्पादन के साथ जुड़ी कंपनियों के टैक्स में भी राहत दी गई है. साथ ही मछली पालन वालों के लिए क्रेडिट कार्ड की घोषणा कर सरकार ने उत्तम कदम उठाया है. 2022 तक सौभाग्य योजना के तहत हर घर में बिजली पहुचाई जाएगी. हर व्यक्ति स्वास्थ्यवान हो, इसे साकार करने के लिए सरकार ने हर गरीब परिवार के लिए लगभग 10 करोड़ लोगो के लिए स्वास्थ्य बीमा योजना की मुहैया कराई है. 

अमित शाह ने कहा कि इस बजट का काफी अच्छा फीडबैक मिल रहा है. हमारी सरकार की यह उपलब्धि है. 24 नये मेडिकल कॉलेज खुलेंगे. साथ ही यह लक्ष्य 2022 तक रखा गया है. ग्रामीण विकास और डिजिटलाइजेश के लिए भी सरकार ने 14.34 लाख करोड़ रुपये आवंटित किया है. देश भर में 6 करोड़ और शौचालय बनाने का लक्ष्य रखा है. देश के 115 जिले चिन्हित कर लिये गये हैं, जिसके विकास के लिए बेहतर योजना बनाई जाएगी. आदिवासी बच्चों के लिए एकलव्य विद्यालय होंगे. 

उन्होंने कहा कि इसके साथ-साथ सड़कों को जोड़ने का भी लक्ष्य रखा गया है. रेलवे के लिए भी काफी कुछ है इस बजट में. इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में करीब 6 लाख करोड़ का निवेश किया जाएगा. उड़ान योजना से लोगों को फायदा पहुंचाने का भी लक्ष्य रखा गया है. रेलवे के लिए सरकार ने 1.48 लाख करोड़ का बजट बनाया है. 

VIDEO: कैसे लागू होगी हेल्थ बीमा योजना