NDTV Khabar

बजट 2018: आम लोगों के लिए राहत की खबर! आयकर दरें हो सकती हैं नरम

सरकार आगामी बजट में आयकर के स्तर तथा दरों में संशोधन कर सकती है ताकि आम लोगों पर दबाव कम किया जा सके.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बजट 2018: आम लोगों के लिए राहत की खबर! आयकर दरें हो सकती हैं नरम

वित्तमंत्री अरुण जेटली ( फाइल फोटो)

खास बातें

  1. आयकर दायरे और कर की दरें हो सकती हैं नरम
  2. वित्तीय परामर्श सेवा कंपनी ईवाय ने किया सर्वेक्षण
  3. ज्यादातर लोगों ने कहा कि कर छूट का स्तर बढ़ाना चाहिए
नई दिल्ली: सरकार आगामी बजट में आयकर के स्तर तथा दरों में संशोधन कर सकती है ताकि आम लोगों पर दबाव कम किया जा सके. वित्तीय परामर्श सेवा कंपनी ईवाय के एक बजट पूर्व सर्वेक्षण में 69 प्रतिशत लोगों की राय है कि कर छूट का स्तर बढ़ाना चाहिए, ताकि लोगों के पास खर्च करने को ज्यादा आय बचे. सर्वेक्षण में करीब 59 प्रतिशत ने कहा कि विभिन्न प्रकार की अब अप्रासंगिक हो चुकी कटौतियों की जगह एक मानक कटौती होनी चाहिए, जिससे कर्मचारियों के ऊपर कर दबाव कम होगा. 

यह भी पढ़ें: सुशील मोदी चाहते हैं कि आयकर में छूट की सीमा बढ़ाकर तीन लाख की जाए

टिप्पणियां
इस सर्वेक्षण में 150 मुख्य वित्त अधिकारियों, कर प्रमुखों व वरिष्ठ वित्त पेशेवरों ने भाग लिया और यह जनवरी में हुआ. करीब 48 प्रतिशत प्रतिभागियों ने कहा कि उन्हें वित्त मंत्री द्वारा कॉरपोरेट कर कम किये जाने की उम्मीद है लेकिन उन्हें लगता है के उपकर जारी रहेंगे. करीब 65 प्रतिशत लोगों का अनुमान है कि लाभांश पर कर व्यवस्था में बदलाव किए जा सकते हैं. 

VIDEO: 29 सामानों पर जीएसटी शून्य, पेट्रोल-डीजल पर फैसला नहीं
ईवाय ने कहा, ‘‘बजट पूर्व सर्वेक्षण में पता चलता है कि कर नीतियां स्थिर एवं सतत होगी तथा कर ढांचे में सुधार होगा.’’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement