NDTV Khabar

हेल्थ बीमा योजना एक क्रांतिकारी कदम : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा

संसद में बजट भाषण के दौरान वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दुनिया की सबसे बड़ी कैशलेस मेडिकल बीमा योजना 'आयुष्‍मान भारत' की घोषणा की थी.  उसके विषय में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी ने कहा कि इसके तहत इस देश के तकरीबन 10 करोड़ परिवार इसका लाभ ले पाएंगे. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हेल्थ बीमा योजना एक क्रांतिकारी कदम : केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली:
टिप्पणियां
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी नड्डा  ने कहा है कि 'आयुष्‍मान भारत' योजना इस देश की आर्थिक और सामाजिक क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने वाला साबित होगा. उन्‍होंने कहा कि अभी इस देश में तकरीबन 1.5 लाख ऐसे स्‍वास्‍थ्य केंद्र है जहां सिर्फ मां और बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर काम किया जाता है अब उसी केंद्र को 'हेल्‍थ एंड वेलनेश सेंटर' के तौर पर डेवलप किया जाएगा. उन्‍होंने कहा कि इस सेंटर पर कम्‍यूनिकेबल और नॉन कम्‍यूनिकेबल दोनों तरह की बिमारियों को कवर करेंगे. संसद में बजट भाषण के दौरान वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दुनिया की सबसे बड़ी कैशलेस मेडिकल बीमा योजना 'आयुष्‍मान भारत' की घोषणा की थी.  उसके विषय में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी ने कहा कि इसके तहत इस देश के तकरीबन 10 करोड़ परिवार इसका लाभ ले पाएंगे. 
 

आम बजट-2018 : अगर आप शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो यह 10 बातें जानना आपके लिए है जरूरी


जेपी नड्डा ने कहा कि हमारी सरकार की ओर से यह एक क्रांतिकारी कदम है जिसका असर इस देश की सामाजिक और आर्थिक क्षेत्र में दिखेगा. उन्‍होंने कहा कि इस योजना से लगभग 50 करोड़ लोग इससे लाभांवित होंगे. उन्‍होंने कहा कि बीमारी कई परिवार को तोड़ देती थी, दिवालिया कर देती थी लेकिन अब 'आयुष्‍मान भारत' योजना के तहत उन्‍हें काफी राहत मिलेगा.

वीडियो : लग्जरी आइटम और मोबाइल होंगे महंगे

जेपी नड्डा ने कहा कि 'हेल्‍थ एंड वेलनेस सेंटर' में मां और बच्‍चे से संबंधित चिकित्‍सा सुविधा के साथ-साथ और भी कई चीजों को जोड़ना है. यहां कम्‍यूनिकेवल और नॉन कम्‍यूनिकेवल सभी तरह को कवर करेंगे. ब्रेस्‍ट कैंसर, सर्वाइकल कैंसर, हाइपर टेंशन, डाइबिटिज जैसी बिमारियों के उपचार को इसमें जोड़ने का प्रयास किया गया है. उन्‍होंने कहा कि टीबी से प्रभावित मरीजों के पोषण के लिए सरकार इस बजट में 600 करोड़ रुपये का प्रावधान की है. यह भी काफी राहत देने वाला होगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement