NDTV Khabar

बजट के बाद शेयर बाजार में उछाल, 370.21 प्वाइंट्स का देखा गया इजाफा

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने वर्ष 2019-20 का अंतरिम बजट भाषण पढ़ना शुरू किया और शेयर बाजारों में आरंभिक कारोबार में बढ़त देखी गई,

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बजट के बाद शेयर बाजार में उछाल, 370.21 प्वाइंट्स का देखा गया इजाफा

प्रतिकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

वित्त मंत्री पीयूष गोयल द्वारा पेश वित्त वर्ष 2019-20 के अंतरिम बजट का असर शेयर बाजार पर साफ दिख रहा है. शुक्रवार को दिन में कारोबार के दौरान सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में बढ़त देखी गई है. इसकी अहम वजह अंतरिम बजट में कृषि क्षेत्र एवं व्यक्तिगत आयकर की छूट सीमा बढ़ाए जाने का निवेशकों द्वारा स्वागत करना है. बीएसई का 30 शेयरों का सेंसेक्स दोपहर में कारोबार के दौरान 506.21 अंक यानी 1.40 प्रतिशत की बढ़त के साथ 36,762.90 अंक पर चल रहा है. इसी तरह एनएसई निफ्टी 143.30 अंक यानी 1.32 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,974.25 अंक पर चल रहा है. ॉ

गोयल ने बजट में मध्यम वर्ग को राहत देते हुए पांच लाख रुपये तक की आय वालों को आयकर से छूट देने का प्रस्ताव किया है. साथ ही छोटे और सीमांत किसानों के लिए 6,000 रुपये सालाना की न्यूनतम वार्षिक आय देने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की घोषणा की.

वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने वर्ष 2019-20 का अंतरिम बजट भाषण पढ़ना शुरू किया और शेयर बाजारों में आरंभिक कारोबार में बढ़त देखी गई, हालांकि, चालू वित्त वर्ष के लिए राजकोषीय घाटा लक्ष्य के पार निकल गया है, लेकिन इसके बावजूद शुरुआती कारोबार में बाजार लाभ में रहे. बीएसई का 30 शेयरों का सेंसेक्स 157.10 अंक यानी 0.43 प्रतिशत की बढ़त के साथ 36,413.79 अंक पर चल रहा था.


वहीं एनएसई निफ्टी 43.25 अंक यानी 0.40 प्रतिशत की तेजी के साथ 10,874.20 अंक पर चल रहा था. बजट भाषण में गोयल ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा जीडीपी  के 3.4 प्रतिशत रहेगा. जबकि इसके लिए पूर्वानुमान 3.3 प्रतिशत तय किया गया था.

नौकरीपेशा लोगों को बड़ा तोहफा: बढ़ाई आयकर छूट की सीमा, पांच लाख रुपए तक कोई टैक्स नहीं

बता दें, वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट पेश करते हुए हर एक वर्ग का ध्यान रखते हुए सरकार की घोषणाओं का ऐलान किया है. जहां छोटे किसानों को 6 हजार रुपए प्रतिवर्ष मदद करने का ऐलान किया गया है, वहीं नौकरीपेशा वर्ग को भी राहत दी गी है. वित्त मंत्री ने आयकर छूट की सीमा ढाई लाख रुपए से बढ़ाकर पांच लाख रुपए कर दी गई है. वहीं निवेश के साथ यह सीमा 6.50 लाख रुपए तक करने का ऐलान किया गया है. इसके अलावा अब 40 हजार तक के  बैंक ब्याज पर टीडीएस नहीं कटेगा, पहले यह सीमा 10 हजार रुपए थे. इसके अलावा स्टैंडर्ड डिडेक्शन 40 हजार से 50 हजार रुपए कर दिया गया.

कर्मचारियों को तोहफा: बजट में मोदी सरकार ने ग्रेच्युटी की सीमा 10 लाख से बढ़ाकर की 20 लाख रुपए

टिप्पणियां

VIDEO- बजट 2019: पांच लाख तक कोई टैक्स नहीं- पीयूष गोयल

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement