बजट 2019: बजट में वरिष्ठ नागरिकों को टैक्स में छूट मिलने की मांग, एसोचैम ने कहा- 3 लाख से बढ़ाकर...

उद्योग संगठन एसोचैम ने केंद्रीय बजट में वरिष्ठ नागरिकों को कर में लाभ प्रदान करने का सुझाव दिया है.

बजट 2019: बजट में वरिष्ठ नागरिकों को टैक्स में छूट मिलने की मांग, एसोचैम ने कहा- 3 लाख से बढ़ाकर...

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

उद्योग संगठन एसोचैम ने केंद्रीय बजट में वरिष्ठ नागरिकों को कर में लाभ प्रदान करने का सुझाव दिया है. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण पांच जुलाई को संसद में आम बजट पेश करेंगी.  एसोसिएटेड चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (एसोचैम) ने अपने बजट ज्ञापन में वरिष्ठ नागरिकों (60 वर्ष से ज्यादा उम्र के व्यक्ति) के लिए आयकर में रियायत की सीमा तीन लाख रुपये की आय से बढ़ाकर 7.5 लाख रुपये करने का सुझाव दिया है. एसोचैम के सुझाव के अनुसार, 80 साल से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को 12.50 लाख रुपये तक की आय पर कोई कर नहीं लगाया जाना चाहिए. 

Budget 2019: आर्थिक विकास और नौकरियां बढ़ाने समेत इन बिंदुओं पर वित्त मंत्रालय का जोर

उद्योग संगठन ने कहा कि अनेक वरिष्ठ नागरिकों को मजबूत सामाजिक सुरक्षा या पेंशन निधि निवेश का फायदा नहीं मिलता है और वे मुख्य रूप से मियादी जमा से प्राप्त ब्याज पर निर्भर करते हैं.  एसोचैम ने कहा कि ब्याज दर में पिछले एक साल में काफी कमी आने से वरिष्ठ नागरिक वित्तीय कठिनाई से जूझ रहे हैं, क्योंकि वास्तविक महंगाई मुख्य महंगाई दर से काफी ज्यादा है उससे उनकी मुसीबत बढ़ गई है. 

Budget 2019: बजट के बाद आ सकती है डायरेक्ट टैक्स पर टास्क फोर्स की रिपोर्ट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उद्योग संगठन ने कहा कि इसके अलावा बुढ़ापे में चिकित्सकीय खर्च बढ़ जाती है क्योंकि मेडिकल बीमा के लिए वरिष्ठ नागरिकों को एक या दो दावे के बाद ज्यादा प्रीमियम चुकाना पड़ता है.  

Video: क्या आपके इनकम टैक्‍स से चलता है देश?