NDTV Khabar

बजट पर नेताओं की प्रतिक्रियाएं : किसी ने बताया अच्छा, किसी ने कहा सिर्फ दिखावा

बजट 2019-20 पर नेताओं और जन प्रतिनिधियों की अलग-अलग प्रतिक्रियाएं, महिलाओं के लिए बजट को अच्छा बताया गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बजट पर नेताओं की प्रतिक्रियाएं : किसी ने बताया अच्छा, किसी ने कहा सिर्फ दिखावा

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को संसद में अपना पहला बजट पेश किया.

नई दिल्ली:

बजट 2019-20 पर नेताओं और जन प्रतिनिधियों ने अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दी हैं. महिलाओं के लिए बजट को अच्छा बताया गया है. बजट को किसी ने किसानों और गरीबों के हित में बताया है तो किसी ने इसे सिर्फ दिखावा कहा है.   

बीजेपी के किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह बजट किसान और गरीबों के लिए बहुत अच्छा बजट है. अगर सरकार टैक्स नहीं लगाएगी तो कैसे आम आदमी को उसका फायदा देगी और देश की तरक्की होगी?

महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने कहा कि 'मुझे बहुत अच्छा लगा एक महिला ने 50 साल बाद बजट पेश किया. महिलाओं के लिए बहुत कुछ कहा गया है. नारी से लेकर नारायणी तक की बात हुई है, लेकिन अगर किसानों के लिए और कुछ होता तो और अच्छा होता. मेरे हिसाब से गांव-किसान के लिए उतना नहीं हुआ है जितनी उम्मीद कर रहे थे. लेकिन इसके बावजूद बजट ठीक-ठाक है.'

बजट 2019 : ध्यान राहत के बजाय वृद्धि पर केंद्रित, उद्योग जगत की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं


टीएमसी के सांसद कल्याण बनर्जी ने कहा कि 'इस बजट में किसी के लिए कुछ खास नहीं है, न तो मिडिल क्लास के लिए और न ही अपर क्लास के लिए. बस सब कुछ दिखावा है, सपना है.'

BSP प्रमुख मायावती बोलीं, मोदी सरकार का बजट धन्नासेठों के लिए, इससे तो...

बीएसपी के बिजनौर से सांसद मलूक नागर ने कहा कि यह बजट निराश करने वाला है. न तो किसानों के लिए कुछ है न ही आम आदमी के लिए. ऊपर से डीजल और पेट्रोल का रेट बढ़ जाएगा तो किसान खेती किसके लिए करेगा, पता नहीं है. बजट किसके लिए बना है? मेरे हिसाब से आम आदमी और किसान युवा के लिए तो नहीं.

टिप्पणियां

VIDEO : पांच लाख करोड़ की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement