बजट 2020 को लेकर स्मृति ईरानी का राहुल गांधी पर तंज, पूछा- क्या उन्हें समझ भी आया?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बीते शनिवार देश का बजट (Budget 2020) पेश किया. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इस बजट को देश के विकास की दिशा में सफल कदम बताया.

बजट 2020 को लेकर स्मृति ईरानी का राहुल गांधी पर तंज, पूछा- क्या उन्हें समझ भी आया?

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बजट को लेकर राहुल गांधी पर तंज कसा. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर कसा तंज
  • कहा- क्या राहुल गांधी को समझ भी आया?
  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया बजट
नई दिल्ली:

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने बीते शनिवार देश का बजट (Budget 2020) पेश किया. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने इस बजट को देश के विकास की दिशा में सफल कदम बताया. पीएम मोदी ने वित्त मंत्री और उनकी टीम को दशक का पहला बजट पेश करने और बजट को विकास यात्रा के अनुरूप तैयार करने को लेकर बधाई दी. पीएम मोदी ने कहा, 'बजट 2020 में विभिन्न क्षेत्रों के लिए ऐतिहासिक कदम उठाए गए हैं. रोजगार, इन्फ्रास्ट्रक्चर, टेक्नोलॉजी और टेक्सटाइल रोजगार के अहम क्षेत्र हैं. बजट में रोजगार पैदा करने के लिए इन चारों क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दिया गया है.' कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मोदी सरकार के बजट की आलोचना की, जिसके बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) ने कुछ इस तरह उन्हें जवाब दिया.

स्मृति ईरानी से जब राहुल गांधी की बजट पर प्रतिक्रिया को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, 'मैं उनके सामने बैठी थी. बजट की आधी स्पीच के दौरान वो आंखें बंद करके बैठे हुए थे. आर्थिक मुद्दों पर की जाने वाली घोषणा के दौरान वो बाहर चले गए. बजट भाषण के दौरान जब निर्मला जी अस्वस्थ हो गईं तो वो गैलरी में खड़े हंस रहे थे. अगर कोई महिला स्वस्थ नहीं है तो क्या आप हसेंगे. क्या उन्हें बजट समझ में भी आया.'

बजट में सरकार का बड़ा ऐलान- बेचेगी LIC की हिस्सेदारी

बताते चलें कि राहुल गांधी ने बजट को लेकर कहा, 'देश में मुख्य मुद्दा बेरोजगारी का है. मैंने इस बजट में ऐसा कोई रणनीतिक विचार नहीं देखा, जिससे युवाओं को रोजगार मिल सके. मोदी सरकार के इतने लंबे बजट में सिर्फ आंकड़ों का जुमला था. बार-बार वही चीजें दोहराई जा रही थीं. सरकार को पता है कि क्या हो रहा है. देश की अर्थव्यवस्था कहां जा रही है. सिर्फ बातें हो रही हैं लेकिन कुछ काम नहीं हो रहा है.' राहुल ही नहीं बल्कि विपक्षी दलों के तमाम नेताओं ने बजट को देश की जनता के साथ धोखा करार दिया है.

बजट 2020 : मोदी सरकार पर बरसीं ममता, कहा- सार्वजनिक संस्थानों पर हमला करने की योजना

आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने ट्वीट किया, 'दिल्ली को बजट से बहुत उम्मीदें थी, लेकिन एक बार फिर दिल्ली वालों के साथ सौतेला व्यवहार हुआ. दिल्ली भाजपा की प्राथमिकताओं में आती ही नहीं, तो दिल्ली वाले भाजपा को वोट क्यों दें? सवाल ये भी है की चुनाव से पहले ही जब भाजपा दिल्ली को निराश कर रही है तो चुनाव के बाद अपने वादे निभाएगी?' उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा, 'ये दिवालिया सरकार का दिवालिया बजट है. बीजेपी अर्थव्यवस्था को लेकर पूरी तरह से नाकाम है. UP में बीजेपी की सरकार है, लेकिन इन्वेस्टमेंट लाने के नाम पर कुछ नहीं हो रहा है. रोजगार कैसे पैदा होगा. मोदी सरकार बेरोजगारी के मसले को कैसे दूर करेगी. ये बजट सिर्फ आंकड़ों का मकड़जाल था ताकि देश के अन्य मुद्दों से ध्यान भटकाया जा सके.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: विपक्ष ने बजट को बताया दिशाहीन, पीएम मोदी और वित्त मंत्री पर साधा निशाना