NDTV Khabar

प्रिटिंग प्रेस में 24 घंटे चल रही 500, 200 रुपये के नोट की छपाई

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि देश में अनुमानित आधार पर 70,000 करोड़ रुपये की नकदी की कमी को पूरा करने के लिए इस हफ्ते मशीनें 500 और 200 रुपये के नोटों की अनवरत छपाई कर रही हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रिटिंग प्रेस में 24 घंटे चल रही 500, 200 रुपये के नोट की छपाई

प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

देश के कुछ राज्यों में नकदी की तंगी के बीच सरकार ने नोटों की छपाई का काम तेज कर दिया है. चारों नोट छपाई कारखानों में 24 घंटे काम हो रहा है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि देश में अनुमानित आधार पर 70,000 करोड़ रुपये की नकदी की कमी को पूरा करने के लिए इस हफ्ते मशीनें 500 और 200 रुपये के नोटों की अनवरत छपाई कर रही हैं.

अधिकारी ने पीटीआई - भाषा से कहा कि भारतीय प्रतिभूति मुद्रण और मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड ( एसपीएमसीआईएल ) के चारों छपाईखाने औसतन दिन में 18 से 19 घंटे काम करते हैं , सिर्फ तीन से चार घंटे का ही विराम होता है. लेकिन नकदी की अचानक बढ़ी मांग और एटीएम मशीनों में नकदी खाली होने के चलते यह मुद्रणालय हफ्ते के सातों दिन और 24 घंटे काम कर रहे हैं.

टिप्पणियां

आम तौर पर मुद्रा को प्रिंट किए जाने का चक्र 15 दिन में होता है. इस हफ्ते से जिन नोटों की छपाई शुरु हुई है वह बाजार में इस माह के आखिर तक ही उपलब्ध हो सकेंगे.


अधिकारी ने कहा कि इससे पहले छपाईखानों ने 24 घंटे काम नोटबंदी के बाद 2,000 रुपये की नोटों की छपाई के लिए किया था. ताकि बाजार में आयी तरलता की कमी को जल्द से जल्द पूरा किया जा सके.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement