नोटबंदी की मार जेब पर, आटे के बाद अब चना दाल भी महंगी

नोटबंदी की मार जेब पर, आटे के बाद अब चना दाल भी महंगी

नई दिल्ली:

आटे के बाद अब चने की दाल महंगी हो रही है. नोटबंदी के बाद देश के कई शहरों में चने की दाल के दाम बढ़ गए हैं. केंद्रीय भंडारों पर 24 तारीख तक पुराने नोट चलेंगे, इसलिए हर कोई अपनी पुरानी करेंसी निकालने यहां टूट पड़ा है.

चने की दाल पर सबकी नजर ज्यादा है, क्योंकि बाजार में जो दाल 140 रुपये किलो बिक रही है, वो यहां सब्सिडी पर 88 रुपये किलो मिल जाती है. नतीजा ये है कि 8 नवंबर से पहले रोज औसतन सौ किलो बिकने वाली चने की दाल इन दिनों रोजाना 300 किलो बिक रही है.

Newsbeep

इसका असर दामों पर भी दिख रहा है. खाद्य मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि 8 नवंबर से 21 नवंबर के बीच देश के कई शहरों में चने की दाल महंगी हो गई है. सबसे ज्यादा दाम रीवा में बढ़े हैं - करीब 38 रुपये किलो. वहीं चने की दाल के दाम में शिलौंग में 37 रुपये किलो और बठिंडा में 25 रुपये किलो की बढ़ोतरी हुई है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


चंडीगढ़, इलाहाबाद और आगरा में इसकी कीमत 10 रुपये बढ़ गई है. खाद्य मंत्रालय के पास मौजूद आंकड़ों के मुताबिक 8 नवंबर से 21 नवंबर के बीच देश के 20 शहरों में चना दाल की कीमत 5 रुपये या उससे ज्यादा बढ़े हैं.