NDTV Khabar

दो दिन की तेजी के बाद रुपये में 30 पैसे की भारी गिरावट

वैश्विक वृहद चुनौतियों के बीच ताजा डॉलर लिवाली के कारण थोड़े दिनों की तेजी के बाद रुपया 30 शुक्रवार को पैसे की जोरदार गिरावट के साथ 16 माह के निम्न स्तर 68 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दो दिन की तेजी के बाद रुपये में 30 पैसे की भारी गिरावट

प्रतीकात्मक फोटो

मुंबई:

वैश्विक वृहद चुनौतियों के बीच ताजा डॉलर लिवाली के कारण थोड़े दिनों की तेजी के बाद रुपया 30 शुक्रवार को पैसे की जोरदार गिरावट के साथ 16 माह के निम्न स्तर 68 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ. कच्चे तेल के वैश्विक मूल्य के शुक्रवार को 80 डॉलर प्रति बैरल के मनोवैज्ञानिक स्तर को लांघ गया जिसके कारण सरकारी तेल विपणन कंपनियों में रुपये में मूल्य के अवमूल्यन की आशंका की वजह से डॉलर की मांग बढ़ गयी.

अन्तरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में, भारतीय रिजर्व बैंक और अन्य प्राधिकारों के द्वारा किये गये उपायों के बावजूद रुपये में सुधार का रुख थम गया और रुपया 67.78 रुपये प्रति डॉलर पर कमजोर खुला जो गुरुवार को 67.70 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था. मध्य दोपहर के कारोबार में 68.07 रुपये प्रति डॉलर तक लुढ़कने के बाद केन्द्रीय बैंक की ओर से सरकारी बैंकों ने डॉलर की बिकवाली की जिससे रुपये में थोड़ा सुधार आया.

टिप्पणियां

अंत में रुपया 30 पैसे अथवा 0.44 प्रतिशत की गिरावट दर्शाता 68.00 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ. रुपये में लगातार छठे सप्ताह गिरावट आई है और समीक्षाधीन सप्ताह में डॉलर के मुकाबले इसमें 67 पैसों की गिरावट आई है.


भारतीय रिजर्व बैंक ने कारोबार के लिये संदर्भ दर 67.9577 रुपये प्रति डालर और 80.2784 रुपये प्रति यूरो निर्धारित की थी. अन्तरमुद्रा कारोबार में पौंड, यूरो और जापानी येन के मुकाबले रुपये में गिरावट आई.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement