जीएसटी बिल पर बहस से पूर्व बोले अरुण जेटली- GST भारतीय लोकतंत्र के लिए एक नया अनुभव

जीएसटी बिल पर बहस से पूर्व बोले अरुण जेटली- GST भारतीय लोकतंत्र के लिए एक नया अनुभव

जीएसटी बिल पर बहस से पूर्व बोले अरुण जेटली- GST भारतीय लोकतंत्र के लिए एक नया अनुभव

नई दिल्ली:

बुधवार यानी आज लोकसभा में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक और इससे जुड़े चार विधेयकों पर बहस हो रही है. इस बाबत एनडीटीवी से खास बातचीत में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सबकुछ ठीक रहा तो 1 जुलाई से जीएसटी लागू हो जाएगा.

उन्होंने कहा कि यह पहली बार है जब केंद्र-राज्य की सूची का बिल एक साथ आया है. जीएसटी भारतीय लोकतंत्र के लिए एक नया अनुभव है. राज्यों द्वारा इस पर सहमति के बाद ही इसे लागू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि जीएसटी सीखने का एक बहुत बड़ा अनुभव रहा है. (सरल शब्दों में जानें क्या है जीएसटी)

बता दें गुड्स एंड सर्विस टैक्स (GST) केंद्र और राज्यों द्वारा लगाए गए 20 से अधिक अप्रत्यक्ष करों के एवज में लगाया जाना है. जीएसटी लगने के बाद सेवाओं और वस्तुओं पर लगने वाले कई प्रकार के टैक्स समाप्त हो जाएंगे और केवल एक प्रकार का टैक्स, जीएसटी, लगेगा. (जीएसटी से जुड़े 4 अहम विधेयक जिन पर संसद में आज बहस होनी है : जानें इनके बारे में सबकु)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com