एनपीए की पहचान करने में लापरवाह रहा है एक्सिस बैंक : वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज

मूडीज ने कहा, ‘हमारा मानना है कि बैंक संपत्ति की गुणवत्ता की समस्या की पहचान करने में लापरवाह रहा है. यह उसकी साख गुणवत्ता के लिए नकारात्मक है.’

एनपीए की पहचान करने में लापरवाह रहा है एक्सिस बैंक :  वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुंबई:

वैश्विक रेटिंग एजेंसी मूडीज ने निजी क्षेत्र के एक्सिस बैंक को संपत्ति की गुणवत्ता की पहचान करने के मामले में लापरवाह और सुस्त बताया है. मूडीज का यह बयान ऐसे समय में आया है जब कुछ ही दिन पहले बैंक के संकटग्रस्त ऋण में काफी वृद्धि हुई है. मूडीज ने कहा, ‘हमारा मानना है कि बैंक संपत्ति की गुणवत्ता की समस्या की पहचान करने में लापरवाह रहा है. यह उसकी साख गुणवत्ता के लिए नकारात्मक है.’ मूडीज द्वारा स्थिर परिदृश्य के साथ बीएए3 रेटिंग प्राप्त एक्सिस बैंक ने 17 अक्टूबर को अपनी आय के बारे में दी जानकारी में संपत्ति की गुणवत्ता में भारी गिरावट की जानकारी दी थी.

उसने कहा था कि कॉरपोरेट श्रेणी में 8,100 करोड़ रुपए अटकने के कारण उसकी गैर- निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) में तिमाही आधार पर 24 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है.
 
यह भी पढ़ें : एक्सिस बैंक की CEO शिखा शर्मा को कहा जाएगा अलविदा? बैंक ने बयान जारी कर अफवाहों पर लगाया विराम

मूडीज ने गुरुवार को चेतावनी दी, ‘अगले 12 से 18 महीने में बैंक की संपत्ति की गुणवत्ता हमारी आशंका से भी अधिक खराब हो सकती है.’ उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक द्वारा उल्लेखित नौ ऋण खातों में से महज आधे ही बैंक की निगरानी समिति द्वारा एनपीए हो सकने वाली संपत्तियों की श्रेणी में रखे गए थे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com