NDTV Khabar

बीएओए ने राहुल गांधी के विमान मामले में पुलिस कार्रवाई की निंदा की

बीएओए ने बयान में कहा कि इस तरह की किसी घटना का इस्तेमाल राजनीतिक मकसद से नहीं होना चाहिए और इससे चार्टर विमानों के कुल परिचालन की सुरक्षा बुरी तरह प्रभावित हो सकती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीएओए ने राहुल गांधी के विमान मामले में पुलिस कार्रवाई की निंदा की

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फाइल फोटो)

मुंबई: बिजनेस जेट आपरेटरों के संगठन बिजनेस एयरक्राफ्ट आपरेटर्स एसोसिएशन (बीएओए) ने पिछले सप्ताह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के विमान में तकनीकी गड़बड़ी के मामले में उसके एक सदस्य तथा कॉकपिट क्रू के खिलाफ पुलिस कार्रवाई की निंदा की है. बीएओए ने बयान में कहा कि इस तरह की किसी घटना का इस्तेमाल राजनीतिक मकसद से नहीं होना चाहिए और इससे चार्टर विमानों के कुल परिचालन की सुरक्षा बुरी तरह प्रभावित हो सकती है.

पिछले सप्ताह 26 अप्रैल को राहुल गांधी तथा अन्य लोगों को नयी दिल्ली से उत्तरी कर्नाटक के हुबली ले जा रहे विमान में उतरते समय तकनीकी गड़बड़ी सामने आई थी. इसके बाद नागर विमानन मंत्रालय ने नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) को इसकी जांच का आदेश दिया था.

बयान में कांग्रेस अध्यक्ष का नाम लिए बिना कहा गया है कि बीएओए इस बात को लेकर काफी चिंतित है कि एक वरिष्ठ राजनीतिक नेता को ले जा रही चार्टर्ड उड़ान से संबंधित घटना में आपरेटर और पायलटों के खिलाफ पुलिस में आपराधिक लापरवाही की प्राथमिकी दर्ज कराई गई है.

टिप्पणियां
बयान में कहा गया है कि शुरुआती रपटों से पता चलता है कि विमान में हवा में तकनीकी गड़बड़ी आ गई थी. इसके बाद पायलटों ने मानक परिचालन प्रक्रिया के तहत स्थिति का आकलन करते हुए विमान को सुरक्षित उतार लिया.

लिगारे एविएशन ने डीजीसीए को सौंपी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि यह घटना आटो पायलट मोड में दिक्कत की वजह से हुई. पायलट ने मैनुअल मोड के जरिये विमान को सुरक्षित उतार लिया. एसोसिएशन ने कहा कि इस तरह की घटनाओं की अनिवार्य रूप से डीजीसीए द्वारा जांच की जाती है. इस तरह की घटना का राजनीतिक उद्देश्य से इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. इससे वीआईपी उड़ानों का परिचालन करने वाले पायलटों पर अनावश्यक दबाव पड़ेगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement