NDTV Khabar

बीएसई कार्पोरेट बॉन्ड में ‘रेपो’ कारोबार शुरू करेगा

प्रतिभूति को गिरवी रखने वाली कंपनी जब ऐसे बॉन्ड को एक खास मूल्य पर वापस खरीदने के लिये सहमत हो जाती है तब उसे कार्पोरेट बॉन्ड रेपो कारोबार कहा जाता है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीएसई कार्पोरेट बॉन्ड में ‘रेपो’ कारोबार शुरू करेगा

प्रतीकात्मक फोटो

मुंबई: जाने-माने शेयर बाजार बीएसई ने कहा कि उसे कंपनियों के बॉन्ड पत्र प्रतिभूतियों में रेपो (पुनर्खरीद) कारोबार शुरू करने को रिजर्वबैंक और सेबी से मंजूरी मिल गई है. शेयर बाजार की इस प्रकार के सौदे सोमवार से शुरू करने की योजना है. बाजार में कार्पोरेट बॉन्ड रेपो से तात्पर्य ऐसे सौदे से है जिसमें कोई कंपनी अथवा बैंक कंपनियों की बॉन्ड प्रतिभूति को कोष प्राप्ति के लिये किसी अन्य कंपनी अथवा बैंक के पास गिरवी रखता है. प्रतिभूति को गिरवी रखने वाली कंपनी जब ऐसे बॉन्ड को एक खास मूल्य पर वापस खरीदने के लिये सहमत हो जाती है तब उसे कार्पोरेट बॉन्ड रेपो कारोबार कहा जाता है. 

कंपनियों के बॉन्ड बाजार को और गहरा बनाने के लिये यह फैसला लिया गया है. 

टिप्पणियां
बीएसईने एक वक्तव्य में कहा है , ‘‘ कार्पोरेट बॉन्ड प्रतिभूतियों में रेपो शुरू करने के लिये उसे रिजर्व बैंक और सेबी से मंजूरी मिल गईहै. उसका 28 मई से इसमें कारोबार और उसकी रिपोर्टिंग शुरू करने की योजना है. ’’ 

कार्पोरेट रेपो डेट कारोबार दो तरह से शुरू किया जायेगा -- एक बास्केट रेपो जिसमें निपटान गारंटी होगी और दूसरा विशेष रेपो जो कि बिना निपटान गारंटी के होगा. बाजार शुरू में 3,500 से अधिक कार्पोरेट बांड और जमा प्रमाणपत्रों में रेपो कारोबार की मंजूरी देगा. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement