NDTV Khabar

बीएसएनएल ने लॉन्च की सैटेलाइट फोन सेवा

बीएसएनएल ने आधिकारिक तौर पर एक नया भारतीय जीएसपीएस प्रवेश द्वार खोल दिया जिससे इन्मारसैट की चौथी पीढ़ी के सैटेलाइट के माध्यम से सरकारी और निजी क्षेत्र के ग्राहकों को सैटेलाइट फोन सेवाएं मुहैया कराई जा सकेगी. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीएसएनएल ने लॉन्च की सैटेलाइट फोन सेवा

बीएसएनएल ने एक नया भारतीय जीएसपीएस प्रवेश द्वार खोल दिया है

खास बातें

  1. फिलहाल टाटा कम्युनिकेशंस के पास है सैटेलाइट सेवा
  2. इन्मारसैट अंतराष्ट्रीय नौवहन उपग्रहण दूरसंचार संगठन है
  3. सैटेलाइट फोन के कॉल रेट 30-35 रुपये प्रति मिनट होंगे
नई दिल्ली :

सरकारी दूरसंचार सेवा प्रदाता भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) और इन्मारसैट ने आधिकारिक तौर पर एक नया भारतीय जीएसपीएस प्रवेश द्वार खोल दिया जिससे इन्मारसैट की चौथी पीढ़ी के सैटेलाइट के माध्यम से सरकारी और निजी क्षेत्र के ग्राहकों को सैटेलाइट फोन सेवाएं मुहैया कराई जा सकेगी. 

बीएसएनएल के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अनुपम श्रीवास्तव ने कहा कि यह 'डिजिटल इंडिया' के लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, साथ ही यह सुनिश्चित करता है कि कनेक्टिविटी सभी के लिए उपलब्ध हो. बीएसएनएल ने कहा कि दूरसंचार विभाग के लाइसेंस के तहत गाजियाबाद स्थित नया जीएसपीएस गेटवे बीएसएनएल और इन्मारसैट को पूरे देश में सैटेलाइट फोन प्रयोक्ताओं की मांग को पूरा करने में सक्षम बनाएगा.

बयान में कहा गया इससे सरकार को रक्षा सेवाओं, वाणिज्यिक उद्यमों, समुद्री उद्योग और भारत के दूरदराज के समुदायों के लिए सुरक्षित संचार की सेवा मुहैया कराने में मदद मिलेगी. इन्मारसैट अंतराष्ट्रीय नौवहन उपग्रहण दूरसंचार संगठन है जो उपग्रहमंड का परिचालान करता है. इसके पास 14 उपग्रहों का समूह मौजूद है.


इस मौके पर संचार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा ने कहा कि बीएसएनएल वहां भी काम करता है, जहां कोई नेटवर्क मौजूद नहीं है. बीएसएनएल ने पूरे देश में संचार नेटवर्क के फैलाव में अहम भूमिका निभाई है. विश्व सेटेलाइट फोन सेवा एक आधुनिक सेटेलाइट फोन सेवा है. पहले चरण में आपदा का मुकाबला करने वाली एजेंसियों, राज्य पुलिस, रेलवे, सीमा सुरक्षा बलों और अन्य सरकारी एजेंसियों को यह सेवा दी जायेगी. उसके बाद हवाई जहाज और समुद्री जहाजों से यात्रा करने वाले व्यक्तियों तक इस सेवा का विस्तार किया जाएगा. 

बता दें कि देश में फिलहाल सैटेलाइट फोन सेवा टाटा कम्युनिकेशंस उपलब्ध कराती है और टाटा कम्युनिकेशंस की सेवा 30 जून, 2017 को समाप्त हो जाएगी. फिलहाल देश में 1,532 अधिकृत सैटेलाइट फोन कनेक्शन हैं.

टिप्पणियां

(इनपुट आईएएनएस से भी)

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement