यूनियनों की हड़ताल से बैंकों में प्रभावित हुआ कामकाज, एटीएम में भी नकदी नहीं

यूनियनों की हड़ताल से बैंकों में प्रभावित हुआ कामकाज, एटीएम में भी नकदी नहीं

नई दिल्ली:

बैंक यूनियनों के एक वर्ग की हड़ताल के कारण मंगलवार को सरकारी बैंकों की तमाम शाखाएं या तो बंद रहीं या उनमें कामकाज नहीं हुआ. देश के विभिन्न स्थानों से एटीएम में नकदी नहीं होने की खबरें मिली हैं. ऑल इंडिया बैंक इम्पलाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) ने हड़ताल के सफल रहने का दावा करते हुए कहा कि सभी शाखाएं बंद रहीं.

एआईबीईए के महासचिव सीएच वेंकटचलम ने कहा कि लोग बैंकों में किसी तरह का लेनदेन, मसलन पैसा जमा कराना या निकालना या किसी तरह का अन्य कामकाज नहीं कर पाए. सरकारी खजाने का लेनदेन भी संभवत: नहीं हुआ. आयात और निर्यात लेनदेन प्रभावित हुआ. मनी मार्केट में भी परिचालन नहीं हुआ. मनी ट्रांसफर और नकदी का हस्तांतरण भी नहीं हो सका. उन्होंने कहा कि रिजर्व बैंक ने अपना परिचालन खुला रखा था, लेकिन कर्मचारी उपलब्ध नहीं होने की वजह से क्लीरेयंस का काम भी नहीं हो पाया.

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक्स यूनियन (यूएफबीयू) के तहत कुछ निजी क्षेत्र के बैंक भी हड़ताल में शामिल हुए. बैंक यूनियनों ने अपनी कई मांगों मसलन बढ़ते डूबे कर्ज के लिए शीर्ष अधिकारियों की जवाबदेही तय करना, श्रम सुधारों का विरोध तथा स्थायी नौकरियों की आउटसोर्सिंग के विरोध में हड़ताल का आह्वान किया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

करूड़ वैश्य बैंक और फेडरल बैंक ने कहा कि बैंक की स्टाफ यूनियन और ऑफिसर्स एसोसिएशन यूएफबीयू के बैनर तले हड़ताल में हिस्सा ले रही हैं. फेडरल बैंक ने कहा कि बैंक की शाखाओं पर संभवत: नियमित कामकाज प्रभावित हुआ, लेकिन उपभोक्ताओं की जरूरतों को पूरा करने के लिए बैंक के एटीएम और डिजिटल चैनल काम कर रहे हैं.
(इनपुट भाषा से)

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)