कैट ने वित्त मंत्री से लगाई जीएसटी वार्षिक रिटर्न की अंतिम तारीख बढ़ाने की गुहार

रिटर्न भरने की अंतिम तिथि 31 अगस्त से 31 अक्टूबर करने के लिए केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को भेजा पत्र

कैट ने वित्त मंत्री से लगाई जीएसटी वार्षिक रिटर्न की अंतिम तारीख बढ़ाने की गुहार

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (फाइल फोटो).

नई दिल्ली:

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को भेजे गए एक पत्र में कन्फेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने फॉर्म जीएसटी 9 में वार्षिक GST रिटर्न दाखिल करने के लिए अंतिम तिथि बढ़ाने का आग्रह किया है. यह  रिटर्न भरने की अंतिम तिथि 31 अगस्त, 2019 है.

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि वार्षिक रिटर्न दाखिल करने के लिए निर्धारित फ़ार्म जीएसटी 9 अभी भी बहुत जटिल है. उक्त फॉर्म में मांगी गई कई जानकारियां पूरी तरह से नई होने के कारण विभिन्न कम्पनियों में जीएसटी सॉफ्टवेयर पहले शामिल नहीं किया गया और अब उनका संकलन एक विशाल कार्य है इसलिए व्यापारियों के सभी प्रयासों के बावजूद यह फ़ार्म भरना मुश्किल है.

भरतिया एवं खंडेलवाल ने कहा कि कई बार जीएसटी पोर्टल व्यापारियों को फॉर्म अपलोड करने में कुशलता से काम नहीं कर रहा है. उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान में जम्मू कश्मीर में पिछले बीस दिनों से अधिक समय से इंटरनेट कनेक्टिविटी उपलब्ध नहीं है और देश के विभिन्न हिस्सों में बाढ़ ने व्यवसायों को बुरी तरह प्रभावित किया है. उन्हें सामान्य स्थिति बहाल करने में समय लगेगा.

जीएसटी परिषद ने इलेक्ट्रिक वाहनों व चार्जर पर टैक्स घटाया, बढ़ेगा ऐसे वाहनों का बाजार

कैट ने कहा है कि इन परिस्थितियों में वित्त मंत्री 31 अगस्त की अंतिम तारीख़ को 31 अक्टूबर तक बढ़ाएं. यह भी कहा गया है कि जीएसटीआर 9 फॉर्म को इस हद तक सरल किया जाना चाहिए कि एक साधारण व्यापारी भी खुद रिटर्न दाखिल करने में सक्षम हो.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : जा सकती है पारले के 1000 कर्मचारियों की नौकरी