NDTV Khabar

ऑफिस के लिए कनॉट प्लेस दुनिया का नौवां सबसे महंगा स्थान : सीबीआरई

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ऑफिस के लिए कनॉट प्लेस दुनिया का नौवां सबसे महंगा स्थान : सीबीआरई

ऑफिस किराए के मामले में दिल्ली का कनॉट प्लेस दुनिया का सबसे महंगा नौंवा स्थान है

नई दिल्ली: दिल्ली का कनॉट प्लेस कार्यालय के लिए स्थान लेने के मामले में दुनिया का नौवां सबसे महंगा स्थान है. इसका सालाना किराया 105.71 डॉलर प्रति वर्गफुट तक पहुंच गया है. संपत्ति सलाहकार कंपनी सीबीआरई ने यह जानकारी दी है.

सीबीआरई के मुताबिक, मुंबई का बांद्रा कुर्ला परिसर (बीकेसी) इस मामले में 19वें स्थान पर रहा जबकि नरीमन पांइट 30वें स्थान पर है. सीबीआरई के वैश्विक प्राइम ऑफिस रेंट की रिपोर्ट में यह खुलासा किया है.

सालाना 264.27 डॉलर प्रति वर्गफुट के किराए के साथ हॉगकॉग दुनिया का सबसे महंगा कार्यालय स्थान है. बीजिंग (फाइनेंस स्ट्रीट) और हॉगकॉग (कॉवलूम) इस सूची में क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे हैं, जबकि बीजिंग चौथे स्थान पर रहा है. इसके बाद लंदन (वेस्ट एंड), न्यूयॉर्क (मिडटाउन मेनहैटन), टोक्यो (मारहनोची.ओटेमाची), शंघाई (पुडॉन्ग) का स्थान रहा और मॉस्को दसवें स्थान पर रहा. कनॉट प्लेस में सेंट्रल बिजनेस डिस्ट्रिक्ट (सीबीडी) दुनिया के सबसे महंगे ऑफिस मामले में नौवें स्थान पर रहा है.

टिप्पणियां
रिपोर्ट के मुताबिक 2016 के अंत में इस इलाके का प्राइम ऑफिस किराया 105.71 डॉलर प्रति वर्गफुट सालाना रहा है. सीबीआरई के चेयरमैन (भारत और दक्षिण पूर्वी एशिया) अंशुमान मैगजीन ने कहा कि भारत के वाणिज्यिक रीयल एस्टेट में पिछले दो साल से लगातार सकारात्मक रख बना हुआ है. वैश्विक कंपनियों के लिए यह लगातार तरजीही स्थान बना हुआ है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement