NDTV Khabar

आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर फरवरी में 5.3 प्रतिशत, सीमेंट, रिफाइनरी उत्पादन में तेजी

आठ बुनियादी उद्योगों में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट तथा बिजली है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर फरवरी में 5.3 प्रतिशत, सीमेंट, रिफाइनरी उत्पादन में तेजी

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली: आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर इस साल फरवरी में 5.3 प्रतिशत रही. रिफाइनरी उत्पादों, उर्वरक तथा सीमेंट क्षेत्रों के बेहतर प्रदर्शन से अच्छी वृद्धि दर में मदद मिली. आठ बुनियादी उद्योगों में कोयला, कच्चा तेल, प्राकृतिक गैस, रिफाइनरी उत्पाद, उर्वरक, इस्पात, सीमेंट तथा बिजली है. इन उद्योगों की वृद्धि दर पिछले साल फरवरी में केवल 0.6 प्रतिशत थी. वहीं जनवरी में बुनियादी उद्योगों में 6.1 प्रतिशत की वृद्धि हुई. सोमवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों क अनुसार पेट्रोलियम रिफाइनरी उत्पादन फरवरी में 7.8 प्रतिशत की दर से बढ़ा जबकि एक साल पहले इसी महीने में इसमें 2.8 प्रतिशत की गिरावट हुई थी. उर्वरक तथा सीमेंट उत्पादन में आलोच्य महीने में क्रमश: 5.3 प्रतिशत तथा 22.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई.

बिजली उत्पादन भी फरवरी में 4 प्रतिशत की दर से बढ़ा जबकि फरवरी 2017 में इसमें 1.2 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी. कोयला तथा इस्पात उत्पादन की वृद्धि दर आलोच्य महीने में घटकर क्रमश: 1.4 प्रतिशत तथा 5 प्रतिशत रही जबकि एक साल पहले इसी महीने में इसमें क्रमश: 6.6 प्रतिशत तथा 8.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी.

टिप्पणियां
कुल मिलाकर आठ बुनियादी उद्योगों की वृद्धि दर वित्त वर्ष 2017-18 में अप्रैल- फरवरी के दौरान 4.3 प्रतिशत रही जो पिछली तिमाही में 4.7 प्रतिशत थी. बुनियादी उद्योग की वृद्धि दर का प्रभाव औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) पर पड़ेगा. कुल औद्योगिक उत्पादन में इन आठ बुनियादी उद्योग का योगदान करीब 41 प्रतिशत है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement