NDTV Khabar

नोटबंदी : संसदीय समिति के सदस्यों ने नए सिरे से रिपोर्ट तैयार करने पर जोर दिया

एक संसदीय समिति ने नोटबंदी पर अपनी ही रिपोर्ट के मसौदे को नए सिरे से तैयार करने पर जोर दिया है. सदस्यों का कहना है कि रिजर्व बैंक ने कई महत्वपूर्ण जानकारियां नहीं दी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नोटबंदी : संसदीय समिति के सदस्यों ने नए सिरे से रिपोर्ट तैयार करने पर जोर दिया

फाइल फोटो

नई दिल्ली: एक संसदीय समिति ने नोटबंदी पर अपनी ही रिपोर्ट के मसौदे को नए सिरे से तैयार करने पर जोर दिया है. सदस्यों का कहना है कि रिजर्व बैंक ने कई महत्वपूर्ण जानकारियां नहीं दी हैं. यह भी नहीं बताया है कि बंद किए गए 500 और 1000 रुपये के नोट कितने थे. रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल दो बार समिति के समक्ष उपस्थित हो चुके हैं, लेकिन केंद्रीय बैंक अभी तक यह नहीं बता पाया है कि नोटबंदी के बाद बंद किए गए कितने नोट बैंकों के पास वापस आए हैं. नोटबंदी की घोषणा पिछले साल नवंबर में की गई थी.

यह भी पढ़ें: क्या 1,000 रुपये का नोट दोबारा लाया जाएगा? सरकार ने दिया यह जवाब

टिप्पणियां
सूत्रों ने बताया कि इस रिपोर्ट को स्वीकार करने को टाल दिया गया, क्योंकि वित्त पर संसद की स्थायी समिति के सदस्य अलग-अलग दलों के कई सांसदों ने इस रिपोर्ट को नए सिरे से तैयार करने पर जोर दिया है. उनका कहना है कि रिपोर्ट में जान नहीं है. सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस सांसद वीरप्पा मोइली की अगुवाई वाली समिति का कार्यकाल 31 अगस्त को पूरा हो रहा है. ऐसे में इस रिपोर्ट को समिति के नए सिरे से गठन के बाद ही स्वीकार किए जाने की संभावना है. समिति की मंगलवार को हुई बैठक में दो सदस्यों नरेश अग्रवाल और नरेश गुजराल ने इस दस्तावेज को नए सिरे से तैयार करने पर जोर दिया. वहीं बीजू जनता दल के सांसद बी महताब ने कहा कि मसौदे में जान नहीं है.

VIDEO: नोटबंदी के बाद भी कालेधन की ज्यादा बरामदगी नहीं
समिति के एक अन्य सदस्य पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का मानना है कि नोटबंदी के बाद डिजिटलीकरण पर जोर नहीं दिया जाना चाहिए. भाजपा सांसद निशिकान्त दुबे ने कहा कि रिजर्व बैंक ने पूरा ब्योरा और सदस्यों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब नहीं दिया है, ऐसे में यह दस्तावेज पूर्ण नहीं है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement