हवाईअड्डे पर यात्री से बदसलूकी मामले में इंडिगो को कारण बताओ नोटिस

नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस) ने इस हाथापाई में शामिल इंडिगो एयरलाइंस के दो कर्मचारियों के हवाईअड्डा प्रवेश पास को रद्द कर दिया है.

हवाईअड्डे पर यात्री से बदसलूकी मामले में इंडिगो को कारण बताओ नोटिस

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने इंडिगो एयरलाइंस को कारण बताओ नोटिस जारी किया है. उसे यह नोटिस हवाईअड्डे पर एक यात्री के साथ उसके कर्मचारी द्वारा की गई बदसलूकी के मामले को ठीक से नहीं संभालने में जवाब देने के लिए थमाया गया है. इसके अलावा नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो (बीसीएएस) ने इस हाथापाई में शामिल इंडिगो एयरलाइंस के दो कर्मचारियों के हवाईअड्डा प्रवेश पास को रद्द कर दिया है. यह मामला डीजीसीए के संज्ञान में सोशल मीडिया के माध्यम से पिछले महीने आया. हालांकि यह घटना 15 अक्तूबर को हुई थी.

यह भी पढ़ें : यात्री पर हमला : एयर इंडिया ने इंडिगो की बदनामी को विज्ञापनों में भुनाया

सूत्रों ने जानकारी दी कि नियामक ने अपनी जांच रिपोर्ट नागर विमानन मंत्रालय को भेज दी है. उसने विमानन कंपनी को कारण बताओ नोटिस जारी कर घटना के संदर्भ की पूरी जानकारी देने को कहा है. साथ ही उससे यह भी पूछा है कि कंपनी ने स्वयं से इसकी जानकारी क्यों नहीं दी.

यह भी पढ़ें : अब इतिहासकार रामचंद्र गुहा ने की इंडिगो कर्मचारी द्वारा दुर्व्यवहार की शिकायत  

सूत्रों ने बताया कि नोटिस इंडिगो के अध्यक्ष आदित्य घोष को जारी किए जाने की खबर है. संपर्क करने पर इंडिगो के प्रवक्ता ने कहा, 'मैं इसमें भागीदारी नहीं करूंगा. गौरतलब है कि सात नवंबर को सोशल मीडिया पर इस हाथापाई का वीडियो वायरल हो जाने पर नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने घटना की कड़ी निंदा की थी. कंपनी ने भी घटना के लिए माफी मांगी थी. पिछले महीने मंत्रालय ने डीजीसीए को इस संबंध में जांच करने के आदेश दिए थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : इंडिगो एयरलाइंस ने घटना पर माफ़ी मांगी

वायरल वीडियो के मुताबिक दिल्ली हवाईअड्डे पर इंडिगो के एक कर्मचारी की राजीव कात्याल नाम के यात्री के साथ हाथापाई हो गई थी.