NDTV Khabar

स्मार्टफोन बनाने वाली चीन की कंपनी ओपो को पर्यावरण मंत्रालय की मंजूरी, ग्रेटर नोएडा में लगाएगी संयंत्र

कंपनी का यह संयंत्र उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में होगा. कंपनी इस पर 2200 करोड़ रुपये का निवेश करेगी.

9 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्मार्टफोन बनाने वाली चीन की कंपनी ओपो को पर्यावरण मंत्रालय की मंजूरी, ग्रेटर नोएडा में लगाएगी संयंत्र

प्रतीकात्मक फोटो

ग्रेटर नोएडा:
टिप्पणियां
स्मार्टफोन बनाने वाली चीन की कंपनी ओपो को भारत में अपनी विनिर्माण इकाई स्थापित करने के लिए पर्यावरण मंजूरी मिल गई है. कंपनी का यह संयंत्र उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में होगा. कंपनी इस पर 2200 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने कंपनी की भारतीय अनुषंगी ओपो मोबाइल्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड की इस प्रस्तावित परियोजना को मंजूरी दे दी है.


यदि सरकार की यह नीति कारगर रही तो आधे से भी कम हो सकते हैं पेट्रोल के दाम


अधिकारी ने कहा, ‘‘ ओपो की परियोजना को पर्यावरण पर विशेषज्ञों की एक समिति से राय लेने के बाद मंजूरी दी गई है. इसके लिए कंपनी को कुछ शर्तों का भी पालन करना होगा.’’ कंपनी को मंजूरी का प्रमाणपत्र जारी कर दिया गया है. प्रस्ताव के अनुसार, कंपनी ग्रेटर नोएडा में 110.04 एकड़ भूभाग में स्मार्टफोन विनिर्माण इकाई लगाएगी.

वीडियो :  टीवीएस की नई अपाचे

इसे बिजली की आपूर्ति राज्य बिजली बोर्ड करेगा. इस परियोजना से कुशल और अकुशल दोनों प्रकार के प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रोजगार का सृजन होगा. एनजीओ स्वराज अभियान ने यह भी दावा किया कि निधि भेजने के आदेश की प्रति मिलने के बाद भी इस योजना के तहत निधि जारी करने में केंद्र की तरफ से काफी देरी की गई.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement