NDTV Khabar

EPFO ने इस अभियान के तहत मात्र 1 रुपये सालाना के जुर्माने के साथ 82 लाख कर्मचारियों को जोड़ा

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) यानी ईपीएफओ ने कर्मचारी पंजीकरण अभियान, 2017 के तहत 82 लाख से अधिक नये अंशधारकों का पंजीकरण किया है. यह अभियान इस साल एक जनवरी को शुरू हुआ.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
EPFO ने इस अभियान के तहत मात्र 1 रुपये सालाना के जुर्माने के साथ 82 लाख कर्मचारियों को जोड़ा

EPFO ने इस अभियान के तहत 82 लाख कर्मचारियों को जोड़ा- प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) यानी ईपीएफओ ने कर्मचारी पंजीकरण अभियान, 2017 के तहत 82 लाख से अधिक नये अंशधारकों का पंजीकरण किया है. यह अभियान इस साल एक जनवरी को शुरू हुआ.

योजना के तहत नियोक्ताओं को ईपीएफओ कानून के तहत गैर-पंजीकृत कर्मचारियों की घोषणा करने का अवसर मिला. इसके लिये उन्हें नाममात्र जुर्माना एक रुपये सालाना बतौर नुकसान देना पड़ा. ईपीएफओ के बयान के अनुसार 31 मई 2017 तक 82,01,533 कर्मचारियों ने पंजीकरण कराया.

टिप्पणियां
ईपीएफओ के केंद्रीय भविष्य निधि आयुक्त वीपी जॉय ने कहा, योजना के तहत 82 लाख अंशधारकों के पंजीकरण के साथ अंशधारकों की संख्या करीब 4.5 करोड़ हो गयी. यह पूछे जाने पर कि क्या अभियान की समयसीमा 30 जून 2017 से आगे बढ़ाया जाएगा, जॉय ने कहा, यह छह महीने के लिये था और.. अब इसे आगे बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है.

नियोक्ताओं को उन कर्मचारियों का पंजीकरण कराने के लिये स्वेच्छा से आगे आने के लिये यह अभियान शुरू किया गया था जो एक अप्रैल 2017 से 30 जून 2016 के बीच सदस्यता के लिये पात्र थे लेकिन उनका पंजीकरण नहीं हुआ था. शुरू में यह योजना तीन महीने 31 मार्च 2017 के लिये थी लेकिन बाद में इसकी समयसीमा बढ़ाकर 30 जून 2017 कर दी गयी.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement