NDTV Khabar

विदेशी मुद्रा भंडार 386.53 अरब डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर

भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि इस वृद्धि का कारण विदेशी मुद्रा आस्तियों (एफसीए) में बढ़ोतरी होना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विदेशी मुद्रा भंडार 386.53 अरब डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर

प्रतीकात्मक चित्र

मुंबई: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 30 जून को समाप्त सप्ताह में 4.007 अरब डॉलर बढ़कर 386.53 अरब डॉलर की नई रिकॉर्ड ऊंचाई को छू गया. भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा कि इस वृद्धि का कारण विदेशी मुद्रा आस्तियों (एफसीए) में बढ़ोतरी होना है. इससे पहले के सप्ताह में देश का विदेशी मुद्रा भंडार 57.64 करोड़ डॉलर बढ़कर 382.53 अरब डॉलर हो गया था.

रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार विदेशी मुद्रा भंडार का महत्वपूर्ण हिस्सा मानी जाने वाली विदेशी मुद्रा आस्तियों (एफसीए) समीक्षाधीन सप्ताह में 3.724 अरब डॉलर बढ़कर 362.388 अरब डॉलर हो गई. अमेरिकी डॉलर में अभिव्यक्त किए जाने वाले एफसीए में मुद्राभंडार में रखे यूरो, पौंड और जापानी येन जैसे गैर-अमेरिकी मुद्राओं की मूल्यवृद्धि / अवमूल्यन के प्रभावों को शामिल किया जाता है.

स्वर्ण भंडार भी 25.28 करोड़ डॉलर बढ़कर 20.348 अरब डॉलर का हो गया. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में विशेष निकासी अधिकार भी 1.18 करोड़ डॉलर बढ़कर 1.479 अरब डॉलर हो गया. आईएमएफ में देश का मुद्रा भंडार भी 1.89 करोड़ डॉलर बढ़कर 2.322 अरब डॉलर हो गया.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement