NDTV Khabar

बैंकों में हिस्सेदारी बेच 58 हजार करोड़ रुपये से काफी अधिक जुटा सकती है सरकार

उद्योग एवं वाणिज्य संगठन एसोचैम ने एक रिपोर्ट में रविवार को यह जानकारी दी. रिपोर्ट के मुताबिक, बैंकों में पूंजी डाले जाने की घोषणा के बाद बैंकिंग शेयरों में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बैंकों में हिस्सेदारी बेच 58 हजार करोड़ रुपये से काफी अधिक जुटा सकती है सरकार

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

सार्वजनिक बैंकों के शेयरों में हाल के उछाल के मद्दे नजर इन बैंकों में सरकार की सीमित हिस्सेदारी बेचने से अनुमानित 58 हजार करोड़ रुपए से काफी अधिक राशि मिलने की संभावना है. उद्योग एवं वाणिज्य संगठन एसोचैम ने एक रिपोर्ट में रविवार को यह जानकारी दी. रिपोर्ट के मुताबिक, बैंकों में पूंजी डाले जाने की घोषणा के बाद बैंकिंग शेयरों में जबरदस्त उछाल देखने को मिला है. घोषणा से शेयरों के भाव में हुए बदलाव के हिसाब से देखें तो सरकार अब अपनी तय हिस्सेदारी की बिक्री के जरिए 58 हजार करोड़ रुपए से काफी अधिक जुटा सकती है.

यह भी पढ़ें : म्यूचुअल फंडों ने शेयरों में 12 अरब डाले, एफपीआई को पीछे छोड़ा


उल्लेखनीय है कि सरकार ने फंसे ऋण के दबाव से बैंकों को उबारने के लिए 1.35 लाख करोड़ रुपए बैंकों में डालने की घोषणा की है. सरकार की योजना अपनी हिस्सेदारी कम कर शेयरों की बिक्री के जरिए 58 हजार करोड़ रुपए जुटाने की है. इसके बाद सार्वजनिक बैंकों में सरकार की हिस्सेदारी कम होकर 52 प्रतिशत पर आ जाएगी.

टिप्पणियां

VIDEO :  सरकार का मेगा प्लान, बैंक बचाओ देश बचाओ​

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement