NDTV Khabar

उद्योगों को गति देने के लिए राजकोषीय प्रोत्साहन पर काम कर रही सरकार : सुरेश प्रभु

सुरेश प्रभु ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था अच्छा प्रदर्शन कर रही है और आने वाले सालों में इसमें व्यापक वृद्धि की संभावना है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उद्योगों को गति देने के लिए राजकोषीय प्रोत्साहन पर काम कर रही सरकार : सुरेश प्रभु

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. हम सभी नीतिगत ढांचे तैयार कर रहे हैं.
  2. हम क्षेत्रवार अध्ययन कर रहे हैं कि किन क्षेत्रों में सुधार की गुंजाइश है.
  3. हम बहुत सारे नीतिगत कदम उठा रहे हैं.
नई दिल्ली:

देश के विकास के लिए उधोगों को बढ़ाने तथा रोजगार सृजन से जुड़े मामले पर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने अपना ताजा बयान जारी किया है. मंत्री सुरेश प्रभु ने गुरुवार को कहा कि देश में उद्योगों में गतिविधियां बढ़ाने और रोजगार सृजन के लिये नीतिगत पहल करने और राजकोषीय प्रोत्साहनों को लेकर वित्त मंत्रालय और अन्य विभागों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं. सुरेश प्रभु ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था अच्छा प्रदर्शन कर रही है और आने वाले सालों में इसमें व्यापक वृद्धि की संभावना है.

विश्व आर्थिक मंच द्वारा आयोजित भारत आर्थिक सम्मेलन से इतर यहां पत्रकारों से बातचीत में प्रभु ने कहा, ‘हम सभी नीतिगत ढांचे तैयार कर रहे हैं. हम क्षेत्रवार अध्ययन कर रहे हैं और किन क्षेत्रों में सुधार की गुंजाइश है उनकी पहचान कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘हम बहुत सारे नीतिगत कदम उठा रहे हैं.


यह भी पढ़ें : आर्थिक सुस्ती के बीच अरुण जेटली ने की बैठक, जीडीपी में गिरावट के कारण पर हुई चर्चा

मैं निजी तौर पर जरूरी नीतिगत समर्थन और वित्तीय समर्थन उपलब्ध कराने के लिये वित्त मंत्रालय, नीति आयोग और अन्य सरकारी संस्थानों के साथ मिलकर काम कर रहा हूं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आज जो उद्योग कर रहे हैं उससे कहीं अधिक उत्पादन करें जिससे कि रोजगार के अवसर बढ़ाये जा सकें.’

टिप्पणियां

VIDEO : हादसों की नैतिक ज़िम्मेदारी मेरी: सुरेश प्रभु

मंत्री ने कहा कि उत्पादन बढ़ने से देश का सकल घरेलू उत्पादन भी बढ़ेगा. इससे पहले विश्व आर्थिक मंच के एक सत्र को संबोधित करते हुये प्रभु ने कहा कि सरकार कारोबार करना सुगम बनाने के लिये कई कदम उठा रही है, हालांकि अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है. उन्होंने कहा भारत को व्यावसाय करने का सबसे बेहतर स्थान होना चाहिये.

(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement