NDTV Khabar

जीएसटी नेटवर्क फोन कर टैक्स पेयर्स से पूछ रहा है, कैसा रहा रिटर्न भरने का अनुभव

जीएसटी नेटवर्क ने करदाताओं से पोर्टल पर उनके अनुभव के बारे में जानकारियां जुटानी शुरू की है.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जीएसटी नेटवर्क फोन कर टैक्स पेयर्स से पूछ रहा है, कैसा रहा रिटर्न भरने का अनुभव

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली: माल एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली के तहत आईटी सुविधाएं देने वाले जीएसटी नेटवर्क ने करदाताओं से पोर्टल पर उनके अनुभव के बारे में जानकारियां जुटानी शुरू की है. इस सर्वेक्षण का उद्देश्य जीएसटीएन को और सरल एवं सुविधाजनक बनाना है. जीएसटीएन के चेयरमैन अजय भूषण पांडेय ने कहा कि पूरी तरह समर्पित कॉल सेंटर से रोजाना 500 कॉल किए जा रहे हैं. ये कॉल रिटर्न दाखिल कर चुके लोगों को किए जा रहे हैं. उनसे पोर्टल पर उनके अनुभव के बारे में पूछा जा रहा है. पांडेय ने कहा, 'जीएसटी प्रणाली में हम लोगों से उनकी राय ले रहे हैं. हम रोज सर्वेक्षण करते हैं तथा रिटर्न दायर कर चुके करदाताओं को कॉल कर रहे हैं. हम उनसे उनका अनुभव पूछ रहे हैं और उन्हें हुई दिक्कतों की जानकारियां जुटा रहे हैं.'

यह भी पढ़ें : अगस्त-सितंबर के लिए जीएसटी रिटर्न देर से भरने वालों को राहत

उन्होंने आगे कहा, 'जीएसटीएन एक नई प्रणाली है और लोगों को इसकी आदत पड़ने की देर है. जब तक ऐसा नहीं होता है, हमें कारोबारियों को होने वाली दिक्कतों के प्रति सजग रहना होगा और उनके अनुभव को बेहतर बनाने के तरीकों पर काम करना होगा. अभी हमारी प्राथमिकता मौजूदा दिक्कतों को दूर करना है और चीजों को सरल बनाना है.'

VIDEO : जीएसटी को लेकर सरकार और विपक्ष में जुबानी जंग
उल्लेखनीय है कि इस साल एक जुलाई से जीएसटी व्यवस्था लागू हुई है. इस व्यवस्था के तहत जीएसटीएन के जरिये रिटर्न दायर किए जाते हैं. इससे औसतन प्रति माह करीब 50 लाख रिटर्न दायर हुए हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
1Share
(यह भी पढ़ें)... फोन के बिना पत्रकारिता और संसार

Advertisement