NDTV Khabar

शेयरों पर कैपिटल गेन टैक्‍स लगने से सेंसेक्स 840 अंक टूटा, निफ्टी भी गिरा

गुरुवार को भी बजट पेश होने के बाद भारी उतार चढ़ाव भरे कारोबार में बाजार हल्की गिरावट के साथ बंद हुआ. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में गुरुवार को 2018-19 का बजट पेश किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शेयरों पर कैपिटल गेन टैक्‍स लगने से सेंसेक्स 840 अंक टूटा, निफ्टी भी गिरा

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. शेयर बाजार में सुबह से ही गिरावट का दौर
  2. बीच में कुछ सुधार हुआ लेकिन लाल रहा बाजार
  3. बंद होने से पहले शेयर बाजार में भारी गिरावट दिखी.
नई दिल्ली: मोदी सरकार के बजट 2018 के पेश होने के एक दिन बाद शुक्रवार को शेयर बाजार में भारी गिरावट रही. निवेशकों की बिकवाली से बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक 840 अंक टूट गया. पिछले ढाई साल में यह एक दिन की सबसे बड़ी गिरावट है. गुरुवार को भी बजट पेश होने के बाद भारी उतार चढ़ाव भरे कारोबार में बाजार हल्की गिरावट के साथ बंद हुआ. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में गुरुवार को 2018-19 का बजट पेश किया. इसमें शेयरों से होने वाले एक लाख रुपये से अधिक के दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ पर 10 प्रतिशत कर लगाने का प्रस्ताव किया गया है. शेयरों में निवेश केन्द्रित म्यूचुअल फंड की वितरित आय पर भी 10 प्रतिशत कर लगा दिया गया है.

आम बजट-2018 : अगर आप शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो यह 10 बातें जानना आपके लिए है जरूरी

बाजार धारणा को उस समय एक और झटका लगा जब रेटिंग एजेंसी फिच ने कहा कि सरकार का भारी कर्ज बोझ भारत की रेटिंग सुधार में अड़चन खड़ी कर सकता है. बंबई शेयर बाजार का संवेदी सूचकांक कारोबार की समाप्ति पर 839.91 अंक यानी 2.34 प्रतिशत गिरकर 35,066.75 अंक रह गया. निवेशकों ने विभिन्न वर्गों के शेयरों में जमकर बिकवाली की. सेंसेक्स में 24 अगस्त 2015 के बाद एक दिन की यह सबसे बड़ी गिरावट है. तब सेंसेक्स एक ही दिन में 1,624.51 अंक गिरा था.

टिप्पणियां
मोदी सरकार बजट में मध्यम वर्ग और नौकरीपेशा वालों को कोई राहत नहीं

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का व्यापक आधार वाला निफ्टी सूचकांक भी 256.30 अंक यानी 2.33 प्रतिशत गिरकर 10,760.60 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह नीचे में 10,736.10 अंक तक लुढ़क गया था. बजट में चालू वित्त वर्ष के राजकोषीय घाटे को भी संशोधित अनुमान में बढ़ाकर 3.5 प्रतिशत कर दिया गया है जबकि पहले इसके 3.2 प्रतिशत रहने का बजट अनुमान लगाया गया था.


वीडियो :  बजट में मध्यवर्ग को मायूसी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement