मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.5 प्रतिशत रहने की उम्मीद : मूडीज

मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि 7.5 प्रतिशत रहने का अनुमान है और सरकार के सुधारों को गति देने से इसे आठ प्रतिशत की दर पाने में करीब चार वर्ष का समय लगेगा.

मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.5 प्रतिशत रहने की उम्मीद : मूडीज

भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.5 प्रतिशत रहने की उम्मीद : मूडीज- प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली:

मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की आर्थिक वृद्धि 7.5 प्रतिशत रहने का अनुमान है और सरकार के सुधारों को गति देने से इसे आठ प्रतिशत की दर पाने में करीब चार वर्ष का समय लगेगा.

मूडीज इंवेस्टर्स सर्विस ने अपनी ग्लोबल मैक्रो आउटलुक रपट में कहा कि उत्तर प्रदेश में भाजपा की जीत यह दर्शाती है कि नोटबंदी के बावजूद सरकार की लोकप्रियता बनी हुई है.

इसमें कहा गया है, ‘‘हम भारत में मामूली से अधिक वृद्धि की उम्मीद है. हमारे अनुमान के मुताबिक वित्त वर्ष 2017-18 में भारत की अर्थव्यवस्था 7.5 प्रतिशत की दर से वृद्धि करेगी और 2018-19 में यह 7.7 प्रतिशत रह सकती है.’’ वित्त वर्ष 2016-17 में भारतीय अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रही.

Newsbeep

हालांकि मूडीज का कहना है कि बैंकों के फंसे हुए कर्ज की समस्या को यदि नहीं सुलझाया जाता है तो निवेश गतिविधियों पर असर पड़ेगा क्योंकि उसके लिए कर्ज को संकुचित करना होगा. साथ ही यह आर्थिक वृद्धि पर भी दबाव डालेगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


रपट के अनुसार कुल मिलाकर भारत की आर्थिक वृद्धि दर को आठ प्रतिशत तक पहुंचने में तीन से चार वर्ष का वक्त लगेगा. इससे पहले इसी सप्ताह में विश्वबैंक ने मौजूदा वित्त वर्ष में भारत की वृद्धि दर 7.2 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया था.