इंफोसिस के को-चेयरमैन रवि वेंकटेशन बोले, नारायणमूर्ति शुभचिंतक हैं, आंदोलनकारी शेयरधारक नहीं

वेंकटेशन ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हमें उन पर अमुक या अमुक का ठप्पा लगाना चाहिए.'

इंफोसिस के को-चेयरमैन रवि वेंकटेशन बोले, नारायणमूर्ति शुभचिंतक हैं, आंदोलनकारी शेयरधारक नहीं

रवि वेंकटेशन बोले, नारायणमूर्ति मूर्ति शुभचिंतक हैं, आंदोलनकारी शेयरधारक नहीं- फाइल फोटो

बेंगलुरु:

इंफोसिस के को-चेयरमैन रवि वेंकटेशन ने कहा कि कंपनी इन्फोसिस के सह संस्थापक और प्रवर्तक एनआर नारायणमूर्ति को कोई आंदोलनकारी-शेयरधारक नहीं मानती, बल्कि उन्हें अपना शुभचिंतक समझती है.

वेंकटेशन ने कहा, ‘मैं उन्हें इंफोसिस के शुभचिंतक के रूप में देखूंगा, जो वह थे और आगे भी रहेंगे. मुझे नहीं लगता कि हमें उन पर अमुक या अमुक का ठप्पा लगाना चाहिए. निश्चित रूप से आंदोलनकारी-शेयरधारकों के रूप में तो कतई नहीं.’

यह भी पढ़ें- इंफोसिस की एग्जेक्यूटिव वाइस-प्रेजिडेंट रितिका सूरी का इस्तीफा, कारणों का खुलासा नहीं

मूर्ति हाल के समय में कंपनी में कामकाज के संचालन के मानदंडों पर सवाल उठाते रहे हैं. वेंकटेशन से पूछा गया था कि वह मूर्ति को शुभचिंतक मानते हैं या आंदोलनकारी शेयरधारक रूप में देखते हैं.

उन्होंने कहा कि वह मूर्ति को न केवल संस्थापक, बल्कि संरक्षक के रूप में भी देखते हैं. वेंकटेशन ने उम्मीद जताई कि वह लंबे समय तक कंपनी को रचनात्मक और उत्पादक तरीके से योगदान देते रहेंगे. वेंकटेशन ने कहा कि ज्यादातर लोगों के लिए चाहे वे कर्मचारी हैं या निवेशक, मूर्ति संस्थापक हैं. निश्चित रूप में मैं उन्हें सिर्फ संस्थापक नहीं, संरक्षक भी मानता हूं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)