NDTV Khabar

भारतीय पूंजी बाजार में पार्टिसिपेटरी नोट्स के जरिए निवेश बढ़कर 6 महीने के उच्च स्तर पर पहुंचा

दिसंबर महीने के अंत में पी-नोटस के जरिए निवेश बढ़कर 1.5 अरब डॉलर से अधिक हो गया है. भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के आंकड़ों के मुताबिक, भारतीय बाजारों- इक्विटी, ऋण और डेरिवेटिव्स में पी-नोट्स के जरिए निवेश दिसंबर अंत तक बढ़कर 1,52,243 करोड़ रुपये हो गया है. नवंबर अंत में यह 1,28,639 करोड़ रुपये था. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय पूंजी बाजार में पार्टिसिपेटरी नोट्स के जरिए निवेश बढ़कर 6 महीने के उच्च स्तर पर पहुंचा

फाइल फोटो

मुंबई:

सेबी की ओर से नियमों को सख्त किए जाने के बावजूद भारतीय पूंजी बाजार में पार्टिसिपेटरी नोट्स (पी-नोट्स) के जरिए निवेश बढ़कर 6 महीने के उच्च स्तर पर पहुंच गया है. दिसंबर महीने के अंत में पी-नोटस के जरिए निवेश बढ़कर 1.5 अरब डॉलर से अधिक हो गया है. भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के आंकड़ों के मुताबिक, भारतीय बाजारों- इक्विटी, ऋण और डेरिवेटिव्स में पी-नोट्स के जरिए निवेश दिसंबर अंत तक बढ़कर 1,52,243 करोड़ रुपये हो गया है. नवंबर अंत में यह 1,28,639 करोड़ रुपये था. 

जानकारी देने में देरी की, तो सेबी ने टाटा स्टील पर 10 लाख का जुर्माना लगा दिया

टिप्पणियां

पी-नोट्स के जरिये निवेश जून के बाद दिसंबर में उच्चतम स्तर पर है. जून में इसके जरिए 1.65 लाख करोड़ का निवेश हुआ था.  हाल में वृद्धि से पहले जून 2017 के बाद से पी-नोट्स निवेश लगातार नीचे आ रहा है और सितंबर में यह आठ महीने के निचले स्तर पर चला गया था. हालांकि अक्तूबर में इसमें बढ़ोत्तरी हुई लेकिन नवंबर में फिर गिरावट देखी गयी थी.


वीडियो : बढ़ रहा है बिटकोइन का कारोबार

उल्लेखनीय है पी-नोट्स यानी पार्टिसिपेटरी नोट्स, भारत में पंजीकृत विदेशी पोर्टफोलिया निवेशकों द्वारा वैश्विक निवेशकों के लिए जारी किया जाता है जो खुद भारत में पंजीकृत हुए बिना ही भारतीय प्रतिभूति बाजार में निवेश करना चाहते हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement