Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

गैर-कांग्रेसी दलों ने मीरा कुमार से मिलकर चाको को हटाने की मांग की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. गैर-कांग्रेसी दलों के सांसदों ने मीरा कुमार से मिलकर 2-जी पर बनी जेपीसी से पीसी चाको को हटाने की मांग की। इनमें बीजेपी, बीजेडी, डीएमके, एआइडीएमके, तृणमूल और लेफ्ट तक के नेता शामिल थे।
नई दिल्ली:

गैर-कांग्रेसी दलों के सांसदों ने मीरा कुमार से मिलकर 2-जी पर बनी जेपीसी से पीसी चाको को हटाने की मांग की। इनमें बीजेपी, बीजेडी, डीएमके, एआइडीएमके, तृणमूल और लेफ्ट तक के नेता शामिल थे।

सांसदों ने चाको को हटाने के लिए एक ज्ञापन भी सौंपा है। लेफ्ट ने चाको पर निष्पक्ष न होने का आरोप लगाया है।

इससे पूर्व 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले की जांच करने वाली संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) की मसौदा रिपोर्ट को अंतिम रूप देने के लिए गुरुवार को इसके सदस्यों की होने वाली बैठक स्थगित हो गई है।

समिति की मसौदा रिपोर्ट को अंतिम रूप देने के लिएर इसके 30 सदस्यों की बैठक 3 बजे होने वाली थी, जिस पर सदस्यों के बीच स्पष्ट मतभेद हैं। सूत्रों के अनुसार, समिति की बैठक स्थगित हो गई है। अब यह संभवत: अगले सप्ताह होगी।

इस मुद्दे पर चर्चा के लिए कांग्रेस कोर समूह की बैठक गुरुवार को हुई, जिसमें प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, रक्षा मंत्री एके एंटनी, केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदम्बरम तथा केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री कमलनाथ शामिल थे।


टिप्पणियां

जेपीसी की मसौदा रिपोर्ट में पूर्व केंद्रीय दूरसंचार मंत्री ए राजा को स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले के लिए दोषी ठहराया गया है, जबकि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदम्बरम को क्लीन चिट दी गई है।

सदस्यों के बीच राजा को दोषी ठहराए जाने और प्रधानमंत्री व केंद्रीय वित्त मंत्री को क्लीन चिट दिए जाने पर मतभेद है, जबकि राजा ने समिति को पत्रक भेजकर कहा है कि उन्होंने जो कुछ भी किया, उसकी जानकारी प्रधानमंत्री को थी।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... अक्षय कुमार ने कोरोनावायरस से जंग के लिए दान की सबसे बड़ी रकम, ट्वीट कर दी जानकारी

Advertisement