NDTV Khabar

एलआईसी ने नौ महीने के प्रीमियम संग्रह में निजी बीमा कंपनियों को पीछे छोड़ा

3 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली: सरकारी बीमा कंपनी एलआईसी ने दिसंबर 2013 को समाप्त चालू वित्त वर्ष के पहले नौ महीने के दौरान प्रीमियम संग्रह के लिहाज से निजी कंपनियों को पछाड़ दिया और 32 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की।

हालांकि निजी क्षेत्र की 23 कंपनियों की प्रीमियम संग्रह की वृद्धि दर कमोबेश पहले की तरह रही, लेकिन रिलायंस लाइफ, मैक्स लाइफ और मेटलाइफ ने इस रझान के विपरीत नए बीमा प्रीमियम में वृद्धि दर्ज की।

निजी क्षेत्र की बीमा कंपनियों ने 2013-14 के पहले नौ महीने के दौरान 18,951.27 करोड़ रुपये जुटाए जबकि पिछले साल की इसी अवधि में 18,907.07 करोड़ रुपये जुटाए थे।

एलआईसी ने दिसंबर में समाप्त नौ महीने के दौरान प्रीमियम संग्रह 32 प्रतिशत बढ़कर 65,775 करोड़ रुपये हो गया जो पिछले साल की इसी अवधि में 50,277.42 करोड़ रुपये थी।

बीमा विनियामक एवं विकास प्राधिकार (इरडा) की विज्ञप्ति के मुताबिक आईसीआईसीआई प्रुडेंशियल, एचडीएफसी स्टैंडर्ड लाइफ, बिड़ला सन लाइफ और एसबीआई लाइफ समेत निजी क्षेत्र की कई बड़ी बीमा कंपनियों के प्रीमियम संग्रह में अप्रैल से दिसंबर के दौरान गिरावट दर्ज हुई।

निजी क्षेत्र की बड़ी बीमा कंपनियों में रिलायंस लाइफ का प्रदर्शन बेहतर रहा और इस अवधि में प्रीमियम संग्रह 56 प्रतिशत बढ़कर 1,424.13 करोड़ रुपये हो गया जो पिछले साल की समीक्षाधीन अवधि में 911.75 करोड़ रुपये था। ऐसा मुख्य तौर पर समूह गैर-एकल प्रीमियम के कारण हुआ।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement