NDTV Khabar

नीति आयोग के नवनियुक्त उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा, देश की सेवा को तैयार हूं

पांच दिन पहले आयोग के मौजूदा उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया ने आयोग से इस्तीफा देने और अध्यापन कार्य के लिए वापस अमेरिका जोने की घोषणा की थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नीति आयोग के नवनियुक्त उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा, देश की सेवा को तैयार हूं

नीति आयोग के नए उपाध्‍यक्ष राजीव कुमार (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: प्रसिद्ध अर्थशास्त्री राजीव कुमार ने रविवार को कहा कि वह नीति आयोग के नए उपाध्यक्ष के रूप में देश की सेवा को तैयार हैं. कुमार ने ट्वीट किया, ‘‘नीति आयोग में अपनी भूमिका के जरिये मैं देश की सेवा करने के लिए तैयार हूं.’’ कुमार को शनिवार को आयोग का उपाध्यक्ष नियुक्त किए जाने की घोषणा हुई है. पांच दिन पहले आयोग के मौजूदा उपाध्यक्ष अरविंद पनगढ़िया ने आयोग से इस्तीफा देने और अध्यापन कार्य के लिए वापस अमेरिका जोने की घोषणा की थी. कुमार के पास ऑक्सफोर्ड से अर्थशास्त्र में डि-फिल और लखनऊ विश्वविद्यालय से पीएचडी की डिग्री है. वह सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च के वरिष्ठ फेलो हैं. इससे पहले वह उद्योग मंडल फिक्की के महासचिव थे. वह इंडियन काउंसिल फॉर रिसर्च ऑन इंटरनेशनल इकोनॉमिक रिलेशंस (इक्रियर) के निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी भी रह चुके हैं.

वह 2006 से 2008 तक राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड के सदस्य रहे थे. वह भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) के मुख्य अर्थशास्त्री भी रह चुके हैं और एशियाई विकास बैंक, उद्योग और वित्त मंत्रालय में वरिष्ठ पदों पर रहे हैं. कुमार कई अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय संस्थानों के बोर्ड में भी रह चुके हैं. इनमें किंग अब्दुल्ला पेट्रोलियम स्टडीज एंड रिसर्च सेंटर, रियाद, इकनामिक रिसर्च इंस्टिट्यूट फार आसियान एंड एशिया, जकार्ता, भारतीय स्टेट बैंक और भारतीय विदेश व्यापार संस्थान शामिल हैं.

नीति आयोग के मौजूदा उपाध्यक्ष पनगढ़िया ने एक अगस्त को घोषणा की कि वह 31 अगस्त को नीति आयोग को अलविदा कह कर कोलंबिया विश्वविद्यालय में अध्यापन में वापस लौटेंगे. पनगढ़िया जनवरी, 2015 में नीति आयोग से जुड़े थे. उद्योग मंडल फिक्की ने नीति आयोग में कुमार की नियुक्ति का स्वागत करते हुए कहा है कि सरकार ने तेजी से कदम उठाते हुए यह नियुक्ति की है जिससे आयोग के कामकाज में निरंतरता कायम करने में मदद मिलेगी.

टिप्पणियां
VIDEO: पनगढ़िया ने फिर से शिक्षा के क्षेत्र में लौटने की बात कही है

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement