NDTV Khabar

महिंद्रा डिफेंस, इजरायली एरोनॉटिक्स में यूएवी के लिए एमओयू

महिंद्रा डिफेंस ने यहां एक बयान में कहा कि दोनों कंपनियां ऐसी यूएवी प्रणाली का निर्माण करेंगी, जिसे भारतीय युद्धपोतों पर से उड़ाया और उतारा जा सकेगा. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महिंद्रा डिफेंस, इजरायली एरोनॉटिक्स में यूएवी के लिए एमओयू

प्रतीकात्मक फोटो

चेन्नई:

महिंद्रा समूह की कंपनी महिंद्रा डिफेंस ने बुधवार को कहा कि उसने नौसेना के लिए मानवरहित हवाई वाहन (यूएवी) के निर्माण के लिए इजरायली कंपनी एरोनॉटिक्स के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं. महिंद्रा डिफेंस ने यहां एक बयान में कहा कि दोनों कंपनियां ऐसी यूएवी प्रणाली का निर्माण करेंगी, जिसे भारतीय युद्धपोतों पर से उड़ाया और उतारा जा सकेगा. 

अग्रणी विनिर्माता एयरोनॉटिक्स इजरायल की रक्षा क्षेत्र की प्रमुख कंपनी है, जो एक सार्वजनिक सूचीबद्ध कंपनी है. एयरोनॉटिक्स ऑरबिटर सीरीज के यूएवीज का निर्माण करती है, जिसे दुनिया के कई देशों में बेचा जाता है. 

एयरोनॉटिक्स का ऑरबिटर 4 एक उन्नत मल्टीमिशन प्लेटफार्म है, जिसमें दो अलग-अलग भारी सामानों को एक साथ लाने-लेजाने की क्षमता है. ऑरबिटर 4 का आर्किटेक्टर ओपन है, जिसमें इसे हरेक मिशन के हिसाब से विशेष रूप से समायोजित किया जा सकता है. 

टिप्पणियां

एक बयान में एयरोनॉटिक्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एमोस माथन के हवाले से बताया गया, "भारतीय नौसेना के लिए ऑरबिटर 4 का समुद्री संस्करण प्रदान करने के लिए एरोनॉटिक्स ने यह साझेदारी की है. हम महिंद्रा डिफेंस के साथ मिलकर भारत में ऑरबिटर यूएवीज के विनिर्माण पर काम करेंगे."


महिंद्रा समूह के समूह अध्यक्ष (एयरोस्पेस और डिफेंस) तथा महिंद्रा डिफेंस के प्रमुख एसपी शुक्ला के हवाले से एक बयान में कहा गया, "विशेष रूप से हमने भारत में विनिर्माण की संभावनाओं (प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण समेत) के साथ उत्पाद का लाइफटाइम सपोर्ट मुहैया कराने के लिए यह साझेदारी की है."



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement