महंगाई पर उच्च स्तरीय बैठक बेनतीजा खत्म

खास बातें

  • खाद्य पदार्थों की बढ़ती महंगाई पर काबू पाने के लिए प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रियों और अधिकारियों की बैठक में कोई फैसला नहीं हो सका।
New Delhi:

खाद्य पदार्थों की बढ़ती महंगाई पर काबू पाने के लिए मंगलवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रियों और अधिकारियों की बैठक में कोई फैसला नहीं हो सका। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक बुधवार या गुरुवार को दोबारा उच्च स्तरीय बैठक बुलाई जा सकती है। प्रधानमंत्री के 7 रेस कोर्स रोड स्थित आवास पर सुबह साढ़े 10 बजे शुरू हुई इस बैठक में वित्तमंत्री प्रणब मुखर्जी, कृषिमंत्री शरद पवार, गृहमंत्री पी चिदंबरम, कैबिनेट सचिव केएम चंद्रशेखर, योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया और वित्त मंत्रालय के मुख्य आर्थिक सलाहकार कौशिक बसु शामिल हुए। खाद्य पदार्थों की कीमतों में वृद्धि के कारण देश की खाद्य महंगाई दर 25 दिसम्बर को समाप्त सप्ताह में बढ़कर 18.32 प्रतिशत हो गई। चावल, गेहूं और दालों की कीमतें स्थिर बनी हुई हैं, लेकिन सब्जियों की कीमतों में लगातार तेजी दर्ज की जा रही है। प्याज की आपूर्ति कम होने से देश के ज्यादातर इलाकों में इसकी कीमत 55 से 60 रुपये प्रति किलोग्राम के ऊंचे स्तर पर बनी हुई है। महंगाई दर में लगातार वृद्धि के चलते भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में और बढ़ोतरी की आशंका बढ़ गई है। इस महीने रिजर्व बैंक की अर्ध-तिमाही समीक्षा जारी होनी है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com