NDTV Khabar

खाद्य मंत्रालय ने किया चीनी मिलों के लिए स्टॉक लिमिट

सितंबर में चीनी मिलों के लिए स्टॉक लिमिट की सीमा 21% तय की गई है, जबकि अक्टूबर के लिए स्टॉक लिमिट 8 फीसदी फिक्स की गयी है.

84 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
खाद्य मंत्रालय ने किया चीनी मिलों के लिए स्टॉक लिमिट

27 अगस्त को देश में चीनी की सबसे ज्यादा कीमत गुवाहाटी में थी.

खास बातें

  1. मंत्री पासवान बोले-देश में पर्याप्त चीनी
  2. अगले महीने से शुरू होगा त्योहारी सीजन
  3. इस दौरान चीनी की कीमतें बढ़ना तय
नई दिल्ली: एक अहम फैसले में खाद्य मंत्रालय ने चीनी मिलों के लिए स्टॉक लिमिट लगाने का फैसला किया है. खाद्य मंत्रालय ने मंगलवार को इस बारे में आदेश जारी किया. ये तय किया गया है की सितंबर में चीनी मिलों के लिए स्टॉक लिमिट की सीमा 21% तय की गई है, जबकि अक्टूबर के लिए स्टॉक लिमिट 8 फीसदी फिक्स की गयी है. इसका मतलब है की 2016-17 के शुगर सीजन के दौरान चीनी मिल अब अगले दो महीने तक उनके पास मौजूद चीनी के कुल स्टॉक का सिर्फ 21% और 8% ही आपने पास रख सकेंगे. खाद्य मंत्री राम विलास पासवान ने मंगलवार को ट्वीट करके कहा, "देश में आम उपभोक्ताओं की ज़रूरतों के मुताबिक पर्याप्त चीनी उपलब्ध है".

ये भी पढ़ें:  यूपी में चीनी मिल घोटाला: मायावती सरकार के दौर में बिकीं 21 चीनी मिलों की जांच के आदेश

यह फैसला ऐसे वक्त लिया गया है जब देश में त्योहारों का मौसम अगले महीने से शुरू हो रहा है. इस दौरान चीनी के मांग औसत से काफी ज्यादा होती है.

VIDEO: मायावती पर जांच की आंच, 21 चीनी मिलों को बेचने का मामला


उपभोक्ता मामलों के विभाग के पास मौजूद आकड़ों के मुताबिक 27 अगस्त को देश में चीनी की सबसे ज्यादा कीमत गुवाहाटी में थी जहां वह 50 रुपए प्रति किलो बिक रही थी. जबकि जम्मू में 84 रुपए प्रति किलो और दिल्ली के खुदरा बाजार में चीनी की कीमत 44 रुपए प्रति किलो थी. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement