NDTV Khabar

केरल में मॉनसून ने दी दस्तक, जानें आपके शहर में कब होगी बारिश

सोमवार को ही मौसम संबंधी विश्लेषण व पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी कंपनी स्काइमेट ने कहा था कि दक्षिण पश्चिम मानसून ने आज केरल में दस्तक दे दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
केरल में मॉनसून ने दी दस्तक, जानें आपके शहर में कब होगी बारिश

केरल में मॉनसून ने दस्तक दी है.

खास बातें

  1. केरल में मॉनसून ने दस्तक दी है.
  2. समय से पहले पहुंचा मॉनसून
  3. 15 जुलाई तक पूरे भारत में आ जाएगा मॉनसून.
नई दिल्ली: देश में मॉनसून ने दस्तक दे दी है. मौसम विभाग के अनुसार केरल में समय से तीन पहले मॉनसून ने दस्तक दे दी है. आज ही केरल में दक्षिम पश्चिम मॉनसून पहुंचा है. सोमवार को ही मौसम संबंधी विश्लेषण व पूर्वानुमान जारी करने वाली निजी कंपनी स्काइमेट ने कहा था कि दक्षिण पश्चिम मानसून ने आज केरल में दस्तक दे दी. इसके साथ देश में दक्षिण पश्चिम मॉनसूनी बरसात का मौसम शुरू हो गया है. जानकारी के  लिए बता दें कि देश में सामान्य मॉनसून होने की बात कही गई है. इससे शेयर बाजारों में  तेजी आ गई थी और अच्छे मॉनसून का असर हमेशा से देश की अर्थव्यवस्था पर भी पड़ता है.

मोसम विभाग की वेबसाइट पर दिए गए मॉनसून के मानचित्र के अनुसार तमिलनाडु और केरल में मॉनसून 1 जून तक राज्य के अधिकांश भाग को अपने अधीन ले लेगा. इसी के साथ मॉनसून उत्तर पूर्व के कुछ हिस्से को भी अपने अधीन ले लेगा. इसमें मिजोरम, त्रिपुरा और मणिपुर के  कुछ इलाके शामिल हैं. 

पढ़ें- इस साल सामान्‍य रहेगा मॉनसून, मौसम विभाग का पहला पूर्वानुमान

वहीं, 1 जून से 5 जून के बीच कर्नाटक का काफी क्षेत्र, पूरा आंध्र प्रदेश और तेलंगाना का कुछ हिस्सा मॉनसून की बारिश से भीगेगा. मॉनसून के इस समय में बाकी बचे उत्तर पूर्व के राज्य भी इसकी परिधि में आ जाएंगे. 

5 जून से 10 जून के बीच मॉनसून और उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ेगा. इस दौरान मॉनसून महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल के साथ-साथ बिहार के कुछ हिस्सों को अपनी आगोश में ले लेगा. 

पढ़ें- गर्मी के साथ बढ़ता पानी संकट, देश के 91 बड़े जलाशयों में औसत से कम बचा है पानी

10 जून से 15 जून के समय में मॉनसून मध्य भारत और उत्तर भारत का काफी हिस्से पर छा जाएगा. इस दौरान गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड और बिहार के अलावा बचे हुए पश्चिम बंगाल के इलाके में मॉनसून की बारिश होगी.

मौसम विभाग के मानचित्र के अनुसार 15 जून से 1 जुलाई के बीच गुजरात के बचे हिस्से, राजस्थान के कुछ हिस्से, दिल्ली,  उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल,पंजाब और हरियाणा के साथ साथ जम्मू-कश्मीर पर भी मॉनसून के बादल बारिश करेंगे. 

पढे़ं - स्काईमेट का अनुमान, मॉनसून सामान्य रहेगा

1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच पूरे भारत पर मॉनसून के बादल छा जाएंगे और अलग-अलग हिस्सों में बारिश होती रहेगी.लेकिन भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को अपने सुबह 8 बजकर 15 मिनट वाले मौसम बुलेटिन में कहा कि मानसून अगले 24 घंटे में केरल पहुंचेगा. 

स्काइमेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जतिन सिंह ने कहा, " केरल में मानसून जैसी स्थितियां है और हम कह सकते हैं वार्षिक वर्षा के मौसम का आगाज हो गया है." 

पढ़ें- सामान्य मॉनसून की आहट से शेयर बाजार गुलजार

टिप्पणियां
इससे पहले स्काइमेट ने अपने पूर्वानुमान में कहा था कि मानसून 28 मई को केरल में प्रवेश करेगा जबकि आईएमडी का अनुमान था कि मानसून 29 मई को दस्तक देगा. आईएमडी के अतिरिक्त महानिदेशक मृ्त्युंजय महापात्र ने कहा कि मानसून के अगले 24 घंटे में केरल पहुंचने की उम्मीद है. 

मौसम विभाग के मुताबिक , यदि 10 मई के बाद , केरल में स्थापित 14 मौसम निगरानी केंद्रों में से 60 प्रतिशत में लगातार दो दिन 2.5 मिली मीटर या उससे अधिक की वर्षा लगातार दो दिन तक दर्ज की जाती है , तो दूसरे दिन केरल में मानसून के प्रवेश की घोषणा की जा सकती है. यह मानसून आने के मुख्य मानदंडों में से एक है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement