मुकेश अंबानी के जुड़वां बच्चे रिलायंस जियो और रिलायंस रिटेल के निदेशक बने

मुकेश अंबानी के जुड़वां बच्चे रिलायंस जियो और रिलायंस रिटेल के निदेशक बने

आकाश अंबानी और ईशा अंबानी की फाइल तस्वीर

नई दिल्ली:

निजी क्षेत्र की सबसे बड़ी कंपनी में उत्तराधिकार योजना पर अमल के संकेत देते हुए अरबपति मुकेश अंबानी के जुड़वां बच्चों - ईशा और आकाश को रिलायंस इंडस्ट्रीज की दूरसंचार एवं खुदरा इकाइयों के निदेशक मंडल में निदेशक नियुक्त कर दिया गया।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि 23 साल के ईशा और आकाश को रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड के निदेशक मंडल में नियुक्त किया गया है। विश्व के सबसे अमीर ऊर्जा क्षेत्र के कारोबारी, अंबानी के तीन बच्चे हैं - ईशा, आकाश और अनंत। ईशा और आकाश जुड़वां हैं, जबकि सबसे छोटे अनंत अमेरिका में पढ़ाई कर रहे हैं।

ईशा ने येल विश्वविद्यालय से 2013 में स्नातक किया है, जहां उन्होंने मुख्य तौर पर मनोविज्ञान और दक्षिण एशिया के बारे में पढ़ाई की। बाद में कुछ समय के लिए वैश्विक परामर्श कंपनी मैकिंजी के साथ काम किया।

आकाश ने ब्राउन विश्वविद्यालय से स्नातक किया और उनका प्रमुख विषय अर्थशास्त्र था। वह अंबानी परिवार के करीबी मनोज मोदी के साथ आरआईएल के 4जी दूरसंचार उद्यम पर काम कर रहे थे। दोनों बच्चे लगभग उसी उम्र में रिलायंस से जुड़ रहे हैं, जिस आयु में पिता मुकेश अंबानी जुड़े थे। वर्ष 1981 में जब मुकेश ने रिलायंस में काम शुरू किया था, तब वह 24 साल के थे।

अंबानी के इन बच्चों को कंपनी की सालाना आम बैठक में देखा जाता रहा है। आकाश संभवत: पहली बार 2011 में कंपनी के कारोबारी सौदे में तब दिखे थे, जब रिलायंस ने लंदन में केजी-डी6 क्षेत्र समेत 23 तेल एवं गैस क्षेत्रों में 30 प्रतिशत हिस्सेदारी बीपी पीएलसी को 7.2 अरब डॉलर में बेचने का समझौता हुआ था।

ईशा पहली बार 16 साल की उम्र में तब चर्चा में आईं, जब फोर्ब्स ने उन्हें विश्व के सबसे युवा अरबपति उत्तराधिकारियों की सूची में दूसरे स्थान पर रखा था। दोनों ने पारिवारिक व्यवसाय से जुड़ने वालों की लंबी सूची में अपनी जगह बना ली है। उल्लेखनीय है कि उनमें से कुछ हैं, जिन्होंने पारिवारिक व्यवसाय से जुड़ने से पहले मैकिंजी या अन्य परामर्श कंपनी या वैश्विक बैंक में कुछ समय काम किया है।

स्वाति और अजय पीरामल की बेटी नंदिनी पीरामल ने 2006 में पारिवारिक कारोबार से जुड़ने से पहले मैकिंजी में कारोबार विश्लेषक के तौर पर काम किया था। रिशाद प्रेमजी ने विप्रो से जुड़ने से पहले लंदन में कुछ साल तक बेन एंड कंपनी में काम किया था। आदित्य मित्तल ने क्रेडिट सुइस के साथ निवेश बैंकिंग में काम किया।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com