सरकार ने कहा, 2000 रुपये के जाली नोट मिलने की कोई पुष्ट खबर नहीं

सरकार ने कहा, 2000 रुपये के जाली नोट मिलने की कोई पुष्ट खबर नहीं

वित्त राज्यमंत्री अर्जुन मेघवाल ने बताया कि 2000 रुपये के जाली नोटों का पता लगने की कोई पुष्ट खबर नहीं है

नई दिल्ली:

सरकार ने शुक्रवार को कहा कि 2000 रुपये के जाली नोटों का पता लगने की कोई पुष्ट खबर उसके संज्ञान में नहीं आई है. वित्त राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि सरकार या आरबीआई के संज्ञान में बैंकिंग चैनल में 2000 रुपये के जाली नोटों का पता लगने की कोई पुष्ट खबर नहीं आई है.

उन्होंने कहा, 'आरबीआई ने दिसंबर, 2016 के आखिरी भाग तक बैंकों और उनकी शाखाओं को जनता को वितरण के लिए विभिन्न मूल्यों के 22.6 अरब नोट जारी किए थे, जिनमें से 20.4 अरब नोट 10, 20, 50 और 100 रुपये के थे और 2.2 अरब नोट 2000 रुपये तथा नए 500 रुपये के थे.'

गत 8 नवंबर 2016 को 500 और 1000 रुपये के बैंक नोटों को अमान्य घोषित किए जाने के बाद रिजर्व बैंक ने बैंकों के माध्यम से जनता तक विभिन्न मूल्य के नोटों की पर्याप्त मात्रा की आपूर्ति करने का बंदोबस्त किया था.

एक अन्य प्रश्न के लिखित उत्तर में मेघवाल ने कहा कि 10 दिसंबर, 2016 की स्थिति के अनुसार आरबीआई और करेंसी चेस्टों में 12.44 लाख करोड़ रुपये के 500 और 1000 रुपये के अमान्य नोट आए थे. उन्होंने बताया कि नोटबंदी से पहले तक व्यवस्था में 500 रुपये के 8,58,253 करोड़ रुपये मूल्य के नोट और 1000 रुपये के 6,85,782 करोड़ रुपये मूल्य के नोट थे. (इनपुट भाषा से)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com