कितने सुरक्षित ई-वॉलेट, बैंकिंग ऐप? क्वॉलकॉम ने कहा, कोई भी मोबाइल ऐप सुरक्षित नहीं

कितने सुरक्षित ई-वॉलेट, बैंकिंग ऐप? क्वॉलकॉम ने कहा, कोई भी मोबाइल ऐप सुरक्षित नहीं

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली:

एक तरफ केंद्र सरकार देश में मोबाइल फोन के जरिए डिजिटल पेमेंट्स को बढ़ावा देने पर जोर दे रही है, वहीं चिपसेट मेकर कंपनी क्वालकॉम का कहना है कि भारत में कोई भी मोबाइल ऐप सुरक्षित नहीं है.

कंपनी का कहना है कि भारत में कोई भी ई-वॉलेट और मोबाइल बैंकिंग ऐप्लिकेशन हार्डवेयर लेवल सिक्योरिटी का इस्तेमाल नहीं करता है जिससे ऑनलाइन लेन-देन को अधिक सुरक्षित रखा जा सके.

क्वालकॉम के सीनियर डायरेक्टर प्रॉडक्ट मैनेजर का कहना है कि दुनिया भर के अधिकतर बैंकिंग और वॉलेट ऐप्स हार्डवेयर सिक्योरिटी का इस्तेमाल नहीं करते. वे पूरी तरह एंड्रॉयड मोड में चलते हैं और यूजर्स के पासवर्ड को आसानी से चुराया जा सकता है. यूजर्स के फिंगरप्रिंट्स को भी कैप्चर किया जा सकता है. भारत में डिजिटल वॉलेट्स और मोबाइल बैंकिंग ऐप्स के लिए यह बड़ी चिंता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com