घरेलू विमान यात्रियों की संख्या सितम्बर में 15 फीसदी बढ़ी

इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) ने अपने वैश्विक विमान यात्रियों के आंकड़े में बताया कि भारत की घरेलू मांग (प्रति यात्री राजस्व या आरपीके) प्रमुख विमानन बाजारों में सबसे अधिक है.

घरेलू विमान यात्रियों की संख्या सितम्बर में 15 फीसदी बढ़ी

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

देश के घरेलू विमान यात्रियों की संख्या में सितम्बर में 15.5 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है. एक वैश्विक एयरलाइन एसोसिएशन ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) ने अपने वैश्विक विमान यात्रियों के आंकड़े में बताया कि भारत की घरेलू मांग (प्रति यात्री राजस्व या आरपीके) प्रमुख विमानन बाजारों में सबसे अधिक है. प्रमुख विमानन बाजारों में ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, चीन, जापान, रूस और अमेरिका शामिल हैं.आईएटीए के आंकड़ों से पता चलता है कि भारत के आरपीके (यात्रियों की संख्या) में सितम्बर में पिछले साल के इसी महीने की तुलना में 15.5 फीसदी की वृद्धि हुई. इस सूची में भारत में बाद चीन (10.1 फीसदी) और रूसी फेडरेशन (7.3 फीसदी) है.

आईएटीए ने अपने सितम्बर के ग्लोबल पैसेंजर ट्रैफिक डेटा में कहा, 'अमेरिकी बाजार में घरेलू मांग में सितम्बर में पिछले साल के इसी महीने की तुलना में 4.2 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई, जो प्रमुख रूप से मौसम की गड़बड़ी के कारण प्रभावित रहा, जिसका सभी आरपीके पर 40 फीसदी से अधिक असर पड़ा.'
 
यह भी पढ़ें : 'अगले 10 सालों में हवाई अड्डों पर खर्च करने होंगे 2,400 अरब रुपये'

इसमें कहा गया, 'भारत और चीन दो अंकों के सालाना ट्रैफिक के साथ सभी बाजारों में सबसे आगे हैं, जबकि बाकी जगह मिलीजुली स्थिति रही.' आईएटीए के महानिदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अलेक्जेंडर दे जूनियेक ने कहा, "अमेरिका में चरम मौसम की घटनाओं के भारी प्रभाव के बावजूद सितंबर में यात्रियों की मांग में अच्छी वृद्धि देखी गई.'

Newsbeep

VIDEO : TDP सांसद ने एयरपोर्ट पर किया हंगामा, एयरलाइंस ने लगाया बैन​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)