NDTV Khabar
होम | बिज़नेस

बिज़नेस

  • शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 246 अंक मजबूत
    वैश्विक बाजारों में मजबूत रुख के बीच घरेलू संस्थागत निवेशकों की लिवाली जारी रहने से बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स गुरुवार को शुरुआती कारोबार में 246 अंक की बढ़त के साथ 35,000 अंक से ऊपर पहुंच गया. डेरिवेटिव खड में आज अंतिम सत्र से पहले मई महीने के सौदों के निपटान के लिये कारोबारियों की लिवाली से बाजार में तेजी आयी. 
  • व्यापारियों हो जाएं खुश : 15 दिनों में दिया जाएगा 30,000 करोड़ से अधिक का GST रिफंड
    वस्‍तु एवं सेवा कर (जीएसटी) का रिफंड सरकार और व्‍यापार जगत दोनों ही के लिए पिछले कुछ महीनों से चिंता का विषय रहा है. अब तक सरकार ने जीएसटी रिफंड के रूप में 30,000 करोड़ रुपये से भी अधिक की राशि को मंजूरी दी है. इसमें आईजीएसटी के 16000 करोड़ रुपये और आईटीसी के 14000 करोड़ रुपये शामिल हैं.
  • एक बार फिर पेट्रोल डीजल के दाम किए गए कम, इस बार 7 पैसे और 5 पैसे प्रति लीटर
    पेट्रोल-डीज़ल की क़ीमतों में आज लगातार दूसरे दिन नाम मात्र की गिरावट आई है. पेट्रोल 7 पैसे और डीज़ल 5 पैसे प्रति लीटर सस्ता हुआ है. दिल्ली में आज पेट्रोल 78.35 और डीज़ल 69.25 रु प्रति लीटर है. मुंबई में पेट्रोल आज भी 86 के पार है. बता दें कि पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने कहा कि तेल की कीमतों का निर्धारण तेल कंपनियां करती हैं और उसमें सरकार की कोई भूमिका नहीं होती है.
  • पेट्रोल-डीजल के दामों में कटौती या भद्दा मज़ाक?
    पेट्रोल डीजल के दाम में लगातार सोलह दिन बढ़ोतरी के बाद बुधवार को राहत मिली- लेकिन किसी मज़ाक की तरह. लोगों की लगातार गुहार के बाद सिर्फ एक पैसे की कटौती. सरकार ने फिर साफ़ कर दिया कि या तो लोग सस्ता पेट्रोल ले लें या फिर विकास होने दें.
  • अपनी CEO चंदा कोचर के खिलाफ जांच करेगा ICICI बैंक
    निजी क्षेत्र के बैंक आईसीआईसीआई (ICICI) ने बुधवार को कहा कि  बैंक ने अपनी प्रबंध निदेशक और सीईओ चंद्रा कोचर के खिलाफ स्वतंत्र जांच कराने का फैसला किया है. यह जांच अज्ञात 'व्हिसल ब्लोअर' द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद की जा रही है. आईसीआईसीआई बैंक ने रेग्युलेटरी फाइलिंग में बताया है कि जांच किसी स्वतंत्र व्यक्ति के नेतृत्व में होगी.
  • पेट्रोल के दाम में 1 पैसे की कटौती पर राहुल का तंज, 'ये बचपना है या मेरे चैलेंज का जवाब'?
    लगातार 16 दिन पेट्रोल-डीजल की कीमत बढ़ने के बाद केंद्र सरकार ने उसमें राहत दी है. केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल की कीमत में मात्र एक पैसे की कटौती की है. इसके बाद से इसकी चौतरफा आलोचना हो रही है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 1 पैसे की कटौती को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है. राहुल गांधी ने सरकार के इस कदम को बचकाना मजाक बताया.
  • सातवें वेतन आयोग के हिसाब से वेतन नहीं बढ़ने से नाराज ये कर्मचारी, गए हड़ताल पर
    सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission)- ग्रामीण डाक सेवकों द्वारा लगातार नौवें दिन बुधवार को हड़ताल जारी रखे जाने से देशभर के ग्रामीण क्षेत्रों में डाक सेवाएं बंद रहीं. सातवें वेतन आयोग के लागू नहीं करने के विरोध में 22 मई को शुरू हुई देशव्यापी हड़ताल के प्रदर्शनकारियों के एक धड़े का अनुबंध अखिल भारतीय ग्रामीण डाक सेवक संघ (एआईजीडीएसयू) से है.
  • देश के इस राज्य में सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, जानिये कितनी कम हुई कीमत
    केरल में शुक्रवार से पेट्रोल और डीजल के दाम में एक रुपये की कटौती हो जाएगी. इस कदम के बाद पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने वाला केरल देश का पहला राज्य बन गया है. केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने कहा है कि राज्य सरकार ने पेट्रोल और डीजल में 1-1 रुपये घटाने का फैसला लिया है. ये कटौती 1 जून से पूरे राज्य में लागू होगी.
  • सेंसेक्स में 43 अंकों की गिरावट
    देश के शेयर बाजारों में बुधवार को गिरावट दर्ज की गई. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 43.13 अंकों की गिरावट के साथ 34,906.11 पर और निफ्टी 18.95 अंकों की गिरावट के साथ 10,614.35 पर बंद हुआ.
  • ये पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी मिसाल बनी रहेगी...
    सवाल सबसे बड़ा ये है कि यदि सरकारें विभिन्न प्रकार के टैक्स से इतना कमा रही हैं तो वह जनता को राहत क्यों नहीं दे सकतीं. यदि कर्नाटक चुनाव के समय 19 दिनों तक तेल के दाम नहीं बढ़े तो एक पैसे की राहत देना कैसी राहत है.
  • आकर्षक बुनियादी ढांचे का सपना हो रहा साकार, चार साल में हुये अतुलनीय कार्य : नितिन गडकरी
    केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि पिछले चार साल के दौरान देश में बुनियादी ढांचागत सुविधाओं के क्षेत्र में अतुलनीय कार्य हुये हैं और सरकार पूर्वोत्तर तथा जम्मू कश्मीर में गतिशील और आकर्षक ढांचागत सुविधायें खड़ी करने के लिये दो लाख करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं पर काम कर रही है.
  • दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी बैंक हड़ताल प्रभावी : AIBEA महासचिव
    अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए AIBEA) के महासचिव ने कहा कि वेतन में जल्द वृद्धि की मांग को लेकर बुधवार से शुरू हुई दो दिवसीय हड़ताल प्रभावी है. देशभर में सरकारी और निजी क्षेत्र के करीब 10 लाख से ज्यादा बैंककमियों की 30 मई से दो दिवसीय हड़ताल शुरू हो गई है. ये लोग इंडियन बैंक एसोसिएशन (आईबीए IBA) की तरफ से पूर्व में प्रस्तावित दो प्रतिशत से अधिक वेतन वृद्धि नहीं करने का विरोध कर रहे हैं.
  • आरबीआई की पहली सीएफओ बनीं सुधा बालाकृष्णन
    एनएसडीएल की उपाध्यक्ष सुधा बालाकृष्णन को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) का पहला मुख्य वित्त अधिकारी (सीएफओ) नियुक्त किया गया है. उनकी नियुक्ति आरबीआई के गवर्नर उर्जित पटेल द्वारा संगठनात्मक बदलाव का हिस्सा है. बैंकिंग क्षेत्र से जुड़े सूत्रों ने इसकी जानकारी दी. 
  • चौथी तिमाही में जीडीपी की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रहने का अनुमान : फिक्की
    देश की सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी - मार्च) के दौरान 7.1 प्रतिशत रहने का अनुमान है. उद्योग मंडल फिक्की ने यह बात कही. पूरे वित्त वर्ष 2017-18 में जीडीपी की वृद्धि दर 6.6 प्रतिशत रहने का अनुमान है. केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) चौथी तिमाही के जीडीपी आंकड़े 31 मई को जारी करने वाला है. 
  • भारत, चीन अगले दशक में वैश्विक चाय मांग, उत्पादन की करेंगे अगुवाई
    भारत और चीन अगले दशक में वैश्विक चाय उत्पादन तथा खपत में अगुवा रहेंगे. संयुक्त राष्ट्र निकाय खाद्य एवं कृषि संगटन (एफएओ) ने यह बात कही. संगठन ने जलवायु परिवर्तन के प्रतिकूल प्रभाव से निपटने के लिये तत्काल कदम उठाने की जरूरत पर बल दिया.
  • नौकरी लग गई है, तो पहली सैलरी से ही शुरू कर दें बचत क्योंकि...
    हर नौकरीपेशा इस कोशिश में रहता है कि वह ऐसा सेविंग्स प्लान चुनें जिससे वह अपने भविष्य को सुरक्षित कर ले. इसके लिए कई बार वे उधेड़बुन में रहते हैं कि क्या करें, कहां निवेश करें, कैसे निवेश करें.
  • सरकार के पास अटका है 20,000 करोड़ रुपये का जीएसटी रिफंड: फियो
    निर्यातकों के प्रमुख संगठन फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट आर्गेनाइजेशन (फियो) ने कहा कि निर्यातकों का सरकार के पास करीब 20,000 करोड़ रुपये का माल एवं सेवा कर (जीएसटी) रिफंड अटका हुआ है. इससे निर्यातकों को नकदी का संकट हो गया है. 
  • रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति के निर्णयों पर ईंधन के दाम का असर झलक सकता है
    रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) की अगली बैठक के निष्कषों पर पेट्रोलियम उत्पादों में तेजी का असर पड़ सकता है. एमपीसी की बैठक चार से शुरू होगी और तीन दिन चलेगी.  यह पहला मौका है जब प्रशासनिक जरूरतों के कारण मौद्रिक नीति समिति की बैठक तीन दिन चलेगी. सामान्य स्थिति में समिति मौद्रिक नीति की घोषणा से पहले दो महीने में दो दिन के लिये बैठक करती है. 
  • मौजूदा वित्त वर्ष में 350 अरब डॉलर हो सकता है भारत का निर्यात: फियो
    निर्यातकों के शीर्ष संगठन फियो के अनुसार भारत का निर्यात मौजूदा वित्त वर्ष में 15-20 प्रतिशत बढ़कर 350 अरब डालर हो सकता है. फियो ने जिंस कीमतों में तेजी सहित विभिन्न कारकों को ध्यान में रखते हुए यह अनुमान व्यक्त किया है. फियो के अध्यक्ष गणेश गुप्ता ने कहा कि दुनिया भर में संरक्षणवाद बढ़ने के बावजूद देश के निर्यात में अच्छी खासी वृद्धि दर्ज होगी. 
  • अंतरराष्ट्रीय बाजार का असर भारतीय शेयर बाजार पर, लाल निशान के साथ खुले
    देश के शेयर बाजार में अंतरराष्ट्रीय शेयर बाजार का असर देखने को मिला और सेंसेक्स और निफ्टी लाल निशान के साथ खुले. बताया जा रहा है कि इटली में राजनीतिक अस्थिरता के संकट के चलते अंतरराष्ट्रीय बाजार नीचे चले गए जिसका असर भारतीय शेयर बाजारों में देखने को मिल रहा है. सुबह 9.20 बजे सेंसेक्स 154 अंक नीचे 34795 पर जबकि निफ्टी 49 अंक नीचे 10583 पर कारोबार कर रहा था. आईटी, आईपीओ के  शेयरों को छोड़कर बाकी सब लाल निशान के साथ कारोबार कर रहे थे.
«12345678»

Advertisement