Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

देश में पिछले 3 वर्षो में आधार कार्ड और जन धन योजनाओं के चलते आर्थिक सुधार : पीएम मोदी

पीएम ने कहा, राजकोषीय घाटा, भुगतान संतुलन घाटा तथा मुद्रास्फीति में कमी आई है, जबकि जीडीपी विकास दर, विदेशी मुद्रा भंडार और सार्वजनिक पूंजी निवेश में बढ़ोतरी हुई है.

देश में पिछले 3 वर्षो में आधार कार्ड और जन धन योजनाओं के चलते आर्थिक सुधार : पीएम मोदी

देश में पिछले 3 वर्षो में आधार कार्ड और जन धन योजनाओं के चलते आर्थिक सुधार : पीएम मोदी

गांधी नगर:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि भारत में आधार कार्ड और जन धन योजनाओं की मदद से पिछले तीन वर्षो में खासा सुधार हुआ है. मोदी ने यहां अफ्रीकी विकास बैंक की 52वीं वार्षिक बैठक के उद्घाटन के दौरान कहा, "राजकोषीय घाटा, भुगतान संतुलन घाटा तथा मुद्रास्फीति में कमी आई है, जबकि जीडीपी विकास दर, विदेशी मुद्रा भंडार और सार्वजनिक पूंजी निवेश में बढ़ोतरी हुई है."

मोदी ने कहा कि भारत ने विकास के क्षेत्र में बड़ी कामयाबी हासिल की है और पिछले तीन वर्षो की रणनीतियां वह अफ्रीका के साथ साझा कर सकता है. उन्होंने कहा कि देश के विकास के पथ पर अग्रसर होने में सार्वभौमिक बैंकिंग और बायोमीट्रिक पहचान मुख्य कारक रहे.

उन्होंने कहा, "हमने सबसे पहले बैंकिंग प्रणाली में बदलाव किया. हमने जनधन योजना शुरू की, जिसके तहत ग्रामीण और शहरी इलाकों में रह रहे 28 करोड़ लोगों के बैंक खाते खोले गए. इस पहल के जरिए देश के प्रत्येक परिवार का बैंक खाता है." 

मोदी ने कहा कि हमारी दूसरी प्रमुख योजना बायोमीट्रिक पहचान प्रणाली 'आधार' है. उन्होंने कहा, इससे अयोग्य लोगों को सरकारी सेवाओं का लाभ उठाने से रोका जा सकता है. इससे हम यह सुनिश्चित करते हैं कि पात्र लोगों को ही इसका लाभ मिले. मोदी ने कहा कि गरीबों को सीधे उनके खाते में सब्सिडी देने से देश की काफी वित्तीय बचत हुई है. (न्यूज एजेंसी भाषा की रिपोर्ट पर आधारित)