प्रीपेड सेवाओं को वरीयता देते हैं ग्राहक व कंपनियां

खास बातें

  • कस्टमर एक्सपीरियंस सिस्टम उपलब्ध कराने वाली वैश्विक कंपनी एमडॉक्स ने एक अध्ययन में यह निष्कर्ष निकाला है जो प्रमुख विश्लेषण फर्म ओवुम ने किया है।
New Delhi:

दुनिया भर में मोबाइल ग्राहक प्रीपैड सेवाओं को वरीयता देते हैं। यही नहीं दूरसंचार कंपनियां भी प्रीपेड सेवाओं पर अधिक ध्यान केंद्रित करती हैं ताकि अधिक से अधिक ग्राहकों को बांधे रखा जा सके और आने वाले दिनों में भी इसी खंड में तेजी देखने को मिलेगी। कस्टमर एक्सपीरियंस सिस्टम उपलब्ध कराने वाली वैश्विक कंपनी एमडॉक्स ने एक अध्ययन में यह निष्कर्ष निकाला है जो प्रमुख विश्लेषण फर्म ओवुम ने किया है। इसमें कहा गया है कि दूरसंचार कंपनियां प्रीपैड ग्राहकों विभिन्न तरह की नयी सेवाएं व विकल्प उपलब्ध कराती हैं। ओवुम में विश्लेषक सारा कौफमेन का कहना है कि ग्राहकों की प्रीपेड सेवाओं से अपेक्षाएं बहुत अधिक हैं और दुनिया भर में इनको वरीयता दी जाती है। ओवुम का अनुमान है कि 2010 में दुनिया भर में कुल कनेक्शनों में प्रीपेड का हिस्सा 75 प्रतिशत रहा जो 2015 में और बढ़कर 77 प्रतिशत हो जाएगा। इसके अनुसार कंपनियां मानती हैं कि प्रीपेड को लेकर उनकी मौजूदा नीतियां भविष्य में काम आएंगी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com