NDTV Khabar

सीमित आपूर्ति और उठान बढ़ने से कालीमिर्च और जीरा कीमतों में तेजी

बाजार सूत्रों ने कहा कि वायदा कारोबार में अधिकांश मसालों में मजबूती के रुख के बीच स्थानीय लिवालों और स्टॉकिस्टों की लिवाली बढ़ने से कारोबारी धारणा में तेजी आई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीमित आपूर्ति और उठान बढ़ने से कालीमिर्च और जीरा कीमतों में तेजी
नई दिल्ली: उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के मुकाबले फुटकर विक्रेताओं और स्टॉकिस्टों का उठान बढ़ने के कारण राष्ट्रीय राजधानी के थोक किराना बाजार में आज कालीमिर्च और जीरा कीमतों में तेजी आई. बाजार सूत्रों ने कहा कि वायदा कारोबार में अधिकांश मसालों में मजबूती के रुख के बीच स्थानीय लिवालों और स्टॉकिस्टों की लिवाली बढ़ने से कारोबारी धारणा में तेजी आई. उन्होंने कहा कि निर्यात मांग में आई तेजी से भी चुनिंदा मसालों की कीमतों में तेजी आई. मांग बढ़ने के बीच बाजार में सीमित आपूर्ति के कारण कालीमिर्च की कीमत 10 रुपये की तेजी के साथ 525-710 रुपये प्रति किलोग्राम हो गयी. इलायची चित्तीदार, कलर रोबिन, बोल्ड और एक्स्ट्रा बोल्ड जैसी इलायची छोटी किस्मों की कीमतें 10 -10 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 985-1,110 रुपये, 840-860 रुपये, 860-880 रुपये और 980-990 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई.

यह भी पढ़ें :  मिलों की निरंतर आपूर्ति के कारण बीते सप्ताह चीनी कीमतों में गिरावट

धनिया की कीमत तेजी के साथ सप्ताहांत में 5,800-11,800 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई जो कीमतें पिछले सप्ताहांत 5,700-11,700 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई थी. सौंठ (उत्तम गुणवत्ता वाली) की कीमत 300 रुपये की तेजी के साथ 10,500-16,000 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई. लालमिर्च और हल्दी की कीमतें 100-100 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 5,100-11,100 रुपये और 6,500-9,700 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई.  घरेलू और निर्यात मांग में तेजी आने के बीच उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के मद्देनजर जीरा कॉमन और बेहतरीन गुणवत्ता किस्म की कीमतें भी 300-300 रुपये की तेजी के साथ क्रमश: 19,300-19,400 रुपये और 21,800-22,300 रुपये प्रति क्विंटल पर बंद हुई. दूसरी ओर चिरौंजी की कीमत 25 रुपये की गिरावट के साथ 575-725 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई. जावित्री पीली की कीमत 10 रुपये की गिरावट के साथ 930-950 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई.
Video : रफ्तार का कहर 

इनपुट : भाषा


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement