NDTV Khabar

रेलवे उच्च गति वाले रेल मार्गों के दोनों तरफ बनाएगी दीवार, विज्ञापन के जरिए करेगी कमाई

सूत्रों ने कहा कि दीवारें सुरक्षा का काम करने के साथ कमाई का माध्यम भी बन सकती है. विज्ञापन से इनकी निर्माण लगात वसूलने में मदद मिलेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रेलवे उच्च गति वाले रेल मार्गों के दोनों तरफ बनाएगी दीवार, विज्ञापन के जरिए करेगी कमाई

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:

भारतीय रेल अपनी कमाई में इजाफा करने के लिए एक नए विकल्प की तरफ बढ़ रही है. हालांकि कहा जा रहा है कि यह विकल्प रेलवे की कमाई के साथ - साथ सुरक्षा की दृष्टि से भी अहम होगा. जिसके लिए भारतीय रेल प्रस्तावित उच्च गति के रेल मार्गों के दोनों ओर दीवार बनाने और उन पर विज्ञापन से कमाई करने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है. सूत्रों ने कहा कि इसके पीछे रेलवे की मंशा गैर किराये आय में बढ़ोत्तरी की है. सूत्रों ने कहा कि दीवारें सुरक्षा का काम करने के साथ कमाई का माध्यम भी बन सकती है. विज्ञापन से इनकी निर्माण लगात वसूलने में मदद मिलेगी.

यह भी पढ़ें : मानव रहित रेल क्रॉसिंग खत्म करने से जुड़ी जानकारी वेबसाइट पर दी जाएगी: रेल मंत्रालय


टिप्पणियां

रेलवे ऐसे ठेकेदारों से बातचीत कर रही है, जो कि प्री- फैब्रिकेटेड दीवारों की आपूर्ति कर सकते हैं. उन्हें विज्ञापन की आय में हिस्सेदार बनाया जा सकता है. योजना से जुड़े एक सूत्र ने कहा, 'दिल्ली - मुंबई उच्च - गति गलियारे की योजना पर काम चल रहा है. इस पर सुरक्षा के लिहाज से भी इस तरह की दीवारों की जरूरत है. हम इन दीवारों पर विज्ञापन के माध्यम से कमाई करने के विकल्प पर काम कर रहे हैं.

VIDEO : रेलवे में 1 लाख नौकरियां, 2 करोड़ अर्ज़ी​
यह गलियारा सघन क्षेत्र से जाएगा. इसमें विज्ञापन बहुत ज्यादा लोगों की निगाह से गुजरेंगे.’ सूत्र ने कहा कि पायलट परियोजनाएं शुरू हो चुकी हैं. दीवरें पूरे नेटवर्क पर होंगी पर शुरुआत शहरी इलाकों से की जाएगी. हैं.' यह दीवारें केवल आय के लिहाज से अहम नहीं होंगी बल्कि पटरियों पर सुरक्षा बनाए रखने, अतिक्रमण से छुटकारा पाने, मवेशियों व अन्य व्यवधानों को भी कम करने में मददगार साबित होंगी. रेल मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि विभिन्न विकल्पों पर विचार किया जा रहा है, जिसमें ध्वनि प्रदूषण को कम करने के लिए ध्वनि रोधक दीवारें बनाने का प्रस्ताव भी शामिल है. दीवारें लगभग 7-8 फुट ऊंची होगी और इसके दोनों तरफ विज्ञापन सामग्री लगाने का विकल्प होगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement